क्राइम

योगी के यूपी में दिनदहाड़े सपा नेता की हत्या, कार्यकर्ताओं ने मचा बवाल

जौनपुर। बेखौफ बदमाशों ने शुक्रवार को सराय ख्वाजा थाना क्षेत्र के मां दुर्गा जी विद्यालय के समीप दिन में 11 बजे ताबड़तोड़ गोलियां बरसाकर सपा नेता को मौत के घाट उतार दिया। दिन दहाड़े हुई इस वारदात से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। पुलिस अधीक्षक सहित जिले के आला अधिकारियों ने घटनास्थल का जायजा लेकर अपराधियों को शीघ्र पकड़ने के निर्देश दिए हैं।

सरायखाजा थाना क्षेत्र के उडली गांव निवासी समाजवादी पार्टी के नेता लालजी यादव आज सुबह स्कॉर्पियो से अपने घर से जौनपुर शहर की तरह आ रहे थे। गाड़ी उनका ड्राइवर गुलाब यादव चला रहा था। घटना के संबंध में सपा नेता के ड्राइवर गुलाब यादव ने बताया कि हम लोगों को घर से निकलकर जेडी यादव से मिलने जाना था। वह मां दुर्गा स्कूल में पहले से बैठे थे, इसलिए नेताजी ने उनसे बात करने के बाद स्कूल चलने को कहा। जब हम लोग स्कूल के गेट पर पहुंचे तो जेडी यादव स्कूल से बाहर आ गए। वह दोनों लोग गाड़ी की पिछली पर बैठ गए और गाड़ी का एसी चालू करवाकर मुझे नीचे उतार दिया। ड्राइवर ने बताया कि मैं बगल में दुकान पर चला गया और दोनों लोग गाड़ी के अन्दर बैठकर बात करने लगे। इसी बीच थोड़ी देर में तीन बदमाश बाइक से मौके पर पहुंचे और पिस्टल निकालकर फायरिंग करनी शुरू कर दी। लगभग 10 राउंड गोली चलाकर तीनों बदमाश फरार हो गए।

मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल सपा नेता को आनन-फानन अस्पताल भेजा लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृत सपा नेता लालजी यादव की भाभी दुर्गावती यादव वार्ड नंबर 11 से वर्तमान समय में समाजवादी पार्टी की जिला पंचायत सदस्य भी हैं। वह पूर्व में गांव के प्रधान भी रहे हैं। इनका जिले में समाजवादी पार्टी के बड़े कद्दावर नेताओं के साथ उठना-बैठना भी रहा है। समाजवादी पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता के रूप में इन्होंने पिछले आम चुनाव में अहम भूमिका भी निभाई थी।

हत्या की जानकारी मिलते ही पूर्व कैबिनेट मंत्री पारसनाथ यादव, वर्तमान शाहगंज विधायक शैलेन्‍द्र यादव ‘ललई’, समाजवादी पार्टी के जिला पंचायत अध्यक्ष राजबहादुर यादव, जिला पंचायत सदस्य जेपी यादव, जिला पंचायत सदस्य पुष्पा यादव व लकी यादव सहित हजारों की संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता जिला अस्पताल पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करके जल्द से जल्द दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग की। जिला अस्पताल पहुंचे समाजवादी पार्टी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे पारसनाथ यादव ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि जिले में पुलिस प्रशासन नाम की कोई व्यवस्था नहीं रह गई है। पूरे प्रदेश में अराजकता का माहौल है। यदि जल्द ही इस हत्या में शामिल लोगों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता सड़कों पर उतर जाएंगे और खूनी खेल शुरू हो सकता है।

घटना के संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण संजय राय ने बताया कि हत्या के पीछे का कारण जानने के लिए अभी परिजनों से पूछताछ की जा रही है। तहरीर मिलने और घटना के बारे में विस्तृत जानकारी मिलने के बाद विधिक कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल अपराधियों को शीघ्र पकड़ने के निर्देश दिए गए हैं।

Back to top button