उत्तर प्रदेश

राजभर का मंत्री की कुर्सी से भरा दिल, योगी से बोले- मैं चला अपने रास्ते

लखनऊ। लोकसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में भाजपा को बड़ा झटका लगा है। योगी सरकार में कैबिनेट में मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने गुरुवार को अपना एक विभाग पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग छोड़ दिया है। उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भी लिखा है। उनके इस पत्र के बाद यह चर्चा होने लगी है कि जल्दी ही राजभर अपना कैबिनेट मंत्री का पद और भाजपा का साथ भी छोड़ सकते हैं।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के प्रमुख ने ट्विटर पर अपना लेटर पोस्ट किया। जिसमें उन्होंने कहा कि वह मंत्रालय का प्रभार सौंप रहे हैं, क्योंकि राज्य पिछड़ी जाति के पैनल के सदस्यों की नियुक्ति में उनकी सिफारिशों को अनदेखा किया गया है।

बता दें कि इसी महीने 7 तारीख को सुहेलदेव भारतीय ओम प्रकाश राजभर ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उन्हें कैबिनेट से बाहर निकालने की चुनौती दी थी। राजभर काफी वक्त से भाजपा से नाराज चल रहे हैं और उन्होंने प्रदेश सरकार के साथ गठबंधन तोड़ने की धमकी दे रहे हैं। राजभर 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले ओबीसी के लिए उप-कोटा लागू करने की मांग कर रहे हैं।पिछले महीने राजभर ने प्रयागराज में योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल की बैठक में हिस्सा नहीं लिया था और भाजपा से अपने राजनीतिक विभाजन की तारीख की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी के 24 फरवरी को एनडीए से बाहर होने की संभावना है।

Back to top button