क्राइम

महिला को सरेआम मारे गए कोड़े, तमाशबीन खींचते रहे फोटो, गुनाह- ‘बदचलनी’

कुछ बाते अक्सर सोचने पर मजबूर कर देती है| क्या ऐसा भी हो सता है आज की दुनिया में अभीकुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सा  होता है. मगर जब सामने आती है तो होश तक उड़ जाते है| ऐसा ही कुछ आज हम आपको बताने जा रहे जिसे जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे|  आज हमे ऐसी मामले की बात करने जा रहे जिसे जानने के बाद आप भी हैरानी में आ जायेंगे|

जानिए क्या है मामला 

भारी संख्या  में लोग कैमरे और फोन लेकर खड़े थे|  भीड़ में पीटने वालो की खुशी  बढ़ा रही थी और एक महिला को लगातार कोड़े मारे जा रहे थे| महिला पर  आरोप ये था कि उन्होंने विवाह होने के बाद संबंध बनाए थे|  ये दिल दहला देने वाला मामला इंडोनेशिया के एचेह प्रोविन्स का है जहां आधिकारिक तौर पर इस तरह की सजा दिए जाने का प्रावधान है|

मार खाने वाली महिला ने सफेद नकाब पहना हुआ है और मरने वाले ने काले कपड़े पहने थे और उसका चेहरा भी ढाका हुआ था|महिला कोड़े खाती हुई घुटनों के बल बैठी थी. जुआ खेलने, शराब पीने, होमोसेक्शुअल संबंध बनाने और विवाहेतर संबंधों के लिए एचेह प्रोविन्स में सार्वजनिक तौर पर कोड़े मारकर सजा देने का प्रावधान है|

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक

2001 में ऑटोनोमी हासिल करने के बाद से एचेह प्रोविन्स ने शरिया कानून के एक रूप को अडॉप्ट किया था| हालांकि, इंडोनेशिया का यह इकलौता ऐसा प्रोविन्स है यहां इस तरह सजा मिलती है| बताते चले ये अलग बात है कि आगामी चुनाव में जीत की उम्मीद कर रहे इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने सार्वजनिक तौर से कोड़े मारने का विरोध किया है. उन्होंने इस सजा को खत्म करने की भी मांग की है.

Back to top button