खेल

सीरीज जीत से फूले नहीं समा रहे कोहली, खुशी में टीम के लिए बहुत बड़ी बात बोली

टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया की धरती पर इतिहास रच दिया है. ऑस्ट्रेलिया में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतकर विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया ने इतिहास के सुनहरे पन्नों में अपना नाम दर्ज करा लिया है, क्योंकि जब पहली बार इन दो देशों के बीच टेस्ट सीरीज खेली गई तो मौजूदा भारतीय टीम के खिलाड़ी पैदा भी नहीं हुए थे.

इस एतिहासिक जीत के बाद कप्तान कोहली ने टीम की जमकर तारीफ की और इस उपलब्धि को सबसे बड़ी कामयाबी बताया. उन्होंने कहा ”सबसे पहले तो मैं कहना चाहता हूं कि मुझे इतना गर्व कभी नहीं हुआ जितना इस टीम पर हो रहा है. हमारा बदलाव शुरू हुआ जब मैं पहली बार कप्तान बना. मैं सिर्फ एक शब्द कहना चाहता हूं कि मुझे गर्व है और मेरे लिए सम्मान की बात है कि मैं इन खिलाड़ियों का नेतृत्व कर रहा हूं.”

मैच के बाद प्रेसेंटेशन के दौरान भारतीय कप्तान ने कहा,”उन्होंने एक कप्तान को अच्छा बनाया. वह इस पल का आनंद उठाने के हकदार हैं. ये मेरी अब तक की सबसे बड़ी उपलब्धि है. जो सबसे उपर रहेगी. जब हमने विश्वकप जीता तो मैं टीम का युवा सदस्य था. मैं देख रहा था कि सभी भावुक हो रहे हैं पर मैं वह महसूस नहीं कर सका.”

आपको बता दें कि बारिश की वजह से पांचवें और अंतिम दिन का खेल नहीं हो पाया और अंपायरों ने लंच के बाद मैच ड्रॉ करने का फैसला किया जिससे भारत ने चार मैचों की सीरीज 2-1 से अपने नाम की. इस तरह से भारत बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी बरकरार रखने में भी सफल रहा.

Back to top button