खेल

VIDEO : विराट की लंबी छलांग, हासिल किये एक पारी में 5 कीर्तिमान

virat kohli

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में 2-0 से पिछड़ने के बाद मेहमान टीम ने जोरदार वापसी की है। रांची में खेले गए तीसरे एकदिनी मुकाबले में कंगारू टीम ने भारत को 32 रनों से हरा दिया। ऑस्ट्रेलिया के कुल 313 रनों का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 48.2 ओवर में 281 रन पर सिमट गई।

बताते चले कंगारुओं से भारत के हाल के बाद में विराट ने ऊंची छलांग लगा दी है. बता दे  विराट की बल्लेबाजी ने पूरे विश्व को अपना दीवाना बना रखा है और विपक्षी टीमें भी इस खिलाड़ी के बल्ले का लोहा मानती है। किंग कोहली वनडे क्रिकेट में हर 5 पारियों के बाद शतक लगा रहे हैं और क्रिकेट दिग्गजों का मानना है कि जिस गति से विराट शतक लगाते चले जा रहे हैं इसमें कोई संदेह नहीं है कि वो इसी साल महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर के 49 वनडे शतकों का कीर्तिमान भी तोड़ देंगे।

Virat Kohli 41st ODI century

आइए नजर डालते हैं विराट की उन 5 उपलब्धियों पर जो उन्होंने रांची वनडे के दौरान हासिल कीं…

1. विराट कोहली ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे मैच में अपने वनडे करियर का 41वां शतक बनाया। वनडे क्रिकेट में सर्वाधिक शतक लगाने के मामले में विराट दूसरे नंबर पर हैं और अब वो सचिन के 49 शतकों के रिकॉर्ड को तोड़ने से महज 9 कदम दूर हैं।

2. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे क्रिकेट में 8वां शतक जो कि सचिन (9) के बाद किसी भी एक विपक्षी टीम के खिलाफ वनडे क्रिकेट में लगाए गए सर्वाधिक शतक हैं।

3. चेज मास्टर कोहली का ये शतक लक्ष्य का पीछा करते हुए उनका 25वां शतक है जोकि वनडे क्रिकेट में लक्ष्य का पीछा करते हुए किसी भी बल्लेबाज द्वारा लगाए गए सर्वाधिक शतक हैं।

4. विराट का ये शतक 300 से ज्यादा रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए उनके द्वारा बनाया गया 9वां शतक है जो कि अंतर्राष्ट्रीय वनडे क्रिकेट में एक कीर्तिमान है।

5. विराट कोहली का ये शतक उनका भारतीय सरजमीं पर कप्तान के रूप में 19वां वनडे शतक है और इसके अलावा विराट ने रांची वनडे में कप्तान के रूप में 4000 रन भी पूरे कर लिए। ये उपलब्धि हासिल करने वाले कोहली चौथे भारतीय कप्तान हैं।

इन उपलब्धियों के अलावा विराट कोहली कई कीर्तिमान बनाने से चूक भी गए। अगर वो ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरा वनडे जीतने में कामयाब हो जाते तो भारतीय टीम पहली बार उनकी कप्तानी में वनडे क्रिकेट में नंबर वन बन जाती और ये विराट की कप्तानी में भारत की 50वीं जीत भी होती।

Back to top button