खेल

VIDEO : इस तूफानी गेंदबाज़ ने तोडा कई साल पुराना रिकॉर्ड, WC में हुआ ऐसा पहली बार

Image result for ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क

आठवें नंबर के बल्लेबाज नाथन कोल्टर नाइल (92 रन) की अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी और उनकी पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ (73) के साथ सातवें विकेट के लिए 102 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी के बाद तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क (46 रन पर 5 विकेट) की घातक गेंदबाजी के दम पर गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने विश्व कप मुकाबले में वेस्ट इंडीज को गुरूवार को 15रन से हराकर अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की।

इस बीच ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ने इस मुकाबले में 5 विकेट लेकर सनसनी फैला दी. स्टार्क की गेंदबाजी की मदद से ऑस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज के मुंह से जीत छीन ली और 15 रनों से मात दी। इसके साथ ही स्टार्क ने गेंदबाजी में एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया।

 

तूफानी गेंदबाज ने तोड़ा 21 साल पुराना रिकॉर्ड, WC में पहली बार हुआ ऐसा

 

मिशेल स्टार्क ने पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज स्कलैन मुस्ताक का सबसे कम वनडे मैच खेलकर 150 विकेट लेने का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ दिया है। बताते चले  पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज स्कलैन मुस्ताक ने 150 वनड विकेट लेने के लिए 78 मैच खेले थे। वहीं मिशेल स्टार्क ने 77 वनडे मैचों में ही यह रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। पूर्व पाकिस्तानी गेंदबाज स्कलैन मुस्ताक ने 150 वनड विकेट लेने के लिए 78 मैच खेले थे। वहीं मिशेल स्टार्क ने 77 वनडे मैचों में ही यह रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

 

तूफानी गेंदबाज ने तोड़ा 21 साल पुराना रिकॉर्ड, WC में पहली बार हुआ ऐसा

सबसे तेज 150 विकेट लेने के मामले में चौथे नंबर पर ऑस्‍ट्रेलिया के दिग्‍गज तेज गेंदबाज ब्रेट ली हैं। ली ने 82 वनडे में 150 विकेट लेने का कमाल किया था।

तूफानी गेंदबाज ने तोड़ा 21 साल पुराना रिकॉर्ड, WC में पहली बार हुआ ऐसा

इस मामले में अजंता मेंडिस 5वें नंबर पर हैं. उन्होंने 84 मैच खेलकर 150 वनडे विकेट लेने का कारनामा किया था।

बताते चले कोल्टर नाइल (92) और स्टीवन स्मिथ (73) ने ऑस्ट्रेलिया को संकट से बाहर निकाल कर 49 ओवर में 288 रन की मजबूत स्थिति में पहुंचाया और ऑस्ट्रेलिया ने फिर वेस्ट इंडीज की चुनौती को नौ विकेट पर 273 रन पर रोक दिया। ऑस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान को हराने के बाद वेस्ट इंडीज को भी हराया जबकि पाकिस्तान को हराने वाली वेस्ट इंडीज को अपनी पहली हार का सामना करना पड़ा। वेस्ट इंडीज इस हार के लिए खुद जिम्मेदार रहा क्योंकि उसने ऑस्ट्रेलिया को अपनी शुरूआती पकड़ से निकलने का मौका दे दिया था।

Back to top button