उत्तर प्रदेश

VIDEO : जब पूरा देश मना रहा था पर्रिकर के निधन पर गम, तब अश्लील डांस देख रहा था गाजियाबाद निगम

2 मिनट का मौन रख दी गई श्रद्धांजलि फिर लगे आइटम नंबर्स पर ठुमके

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का सोमवार को पूर्ण सैन्य और राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। गोवा के मिरामार बीच के नजदीक एसएजी ग्राउंड में सोमवार को शाम करीब 5 बजकर 55 मिनट पर पर्रिकर पंचतत्व में विलीन हो गए। पर्रिकर (63) का पणजी के पास दोना पावला स्थित उनके निजी आवास पर रविवार को निधन हो गया। वह पिछले साल फरवरी से ही अग्नाशय कैंसर से जूझ रहे थे। बताते चले जहाँ पूरा देश मनोहर पर्रिकर के निधन का गम  मना रहा था  बताते चले मुख्यमंत्री के निधन पर नरेंद्र मोदी ने एक दिन का राष्‍ट्रीय शोक घोषित किया। पूरी भारतीय जनता पार्टी शोक में डूबी हुई है।

संगठन ने कई कार्यक्रम रद्द कर दिए। लेकिन गाजियाबाद नगर निगम (जहां पर बीजेपी की मेयर हैं) ने सभी मर्यादाओं को ताक पर रख कर होली मिलन समारोह मनाया और बार डांसर के ठुमके लगवाए। सबसे खास और अजीब बात ये रही कि इस कार्यक्रम का उद्धाटन खुद मेयर आशा शर्मा ने किया। कार्यक्रम को लेकर शहर में जब चर्चाएं तेज हो गईं, निगम प्रशासन की किरकिरी होने लगी तो महापौर से लेकर नगर आयुक्त सभी अपना पल्ला झाड़ते दिखे।

बीजेपी के कई स्‍थानीय नेता रहे मौजूद

महापौर ने दो मिनट का मौन धारण कर मनोहर पर्रिकर को श्रद्धांजलि दी

बताते चले  कार्यक्रम शुरू होने से पहले महापौर ने दो मिनट का मौन धारण कर मनोहर पर्रिकर को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद होली के गानों पर बार डांसरों के साथ जमकर ठुमके लगाए गए। हालांकि यह अश्‍लीलता मेयर और नगर आयुक्त के जाने के बाद हुई। कार्यक्रम में मीडिया को आमंत्रित नहीं किया गया था, लेकिन फिर भी समारोह का वीडियो वायरल हो गया। स्टेज पर ना सिर्फ ठुमके लगाती लड़कियों को देखा जा सकता है। बल्कि स्टेज और उसके आसपास अन्य नगर निगम के कर्मचारियों और यूनियन के लोगों को भी ठमके लगाते हुए देखा जा सकता है। करीब एक बजे शुरू हुआ कार्यक्रम तीन बजे तक चला।

बताते चले  नगर निगम के इस कार्यक्रम में बीजेपी के कई स्‍थानीय नेता रहे मौजूद  हुए कार्यक्रम में मेयर आशा शर्मा के साथ नगर आयुक्त दिनेश चंद्र भी मौजूद रहे। इस कार्यक्रम में बीजेपी पार्षद दल के नेता राजेंद्र त्यागी, कार्यकारिणी उपाध्यक्ष सुनील यादव, साक्षी नारंग समेत कई बीजेपी के पार्षद मौजूद रहे। हालांकि मेयर का कहना है कि जब तक वह मौजूद रहीं, धार्मिक भाव के साथ हो रहा था कार्यक्रम। नगर निगम कर्मचारी संघ अध्यक्ष हरेंद्र नागर के अनुसार दोपहर सवा बारह बजे कार्यक्रम शुरू हुआ। लेकिन उसे दो बजे बंद करा दिया। निगम सूत्रों के अनुसार नगर आयुक्त ने कार्यक्रम बंद कराने को कहा था। हालांकि इस मामले में प्रतिक्रिया लेने के लिए नगर आयुक्त दिनेश चंद्र सिंह से संपर्क किया गया तो उनका मोबाइल फोन स्विच ऑफ आता रहा।

इस मामले पर क्या कहते है नगर आयुक्त

मामले की होगी जांच नगर आयुक्त ने कहा है कि वीडियो सामने आने के बाद मामले की जांच पड़ताल की जाएगी। बताया यह जा रहा है कि कर्मचारी यूनियन ने यह कार्यक्रम आयोजित किया था। इसका सरकारी तौर पर कोई लेना देना नहीं था। यह हैरत अंगेज बात है कि नगर निगम के परिसर में इस तरह का कार्यक्रम का आयोजन हुआ और नगर निगम के अधिकारियों को मामले की खबर भी नहीं।

क्‍या कहना है मेयर आशा शर्मा का

और क्‍या आ रही है प्रतिक्रियाएं मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन से देश दुखी है। मैंने कर्मचारी संघ के कार्यक्रम का उद्‌घाटन करने के बाद दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके बाद मैंने कहा था कि कार्यक्रम को धार्मिक भाव तक ही रखना। इसके बाद हम वहां से चले आए। वहीं पूर्व महानगर अध्यक्ष कांग्रेस कमिटी ओम प्रकाश शर्मा का कहना है कि पर्रिकर के निधन के बाद पूरे देश में राष्ट्रीय शोक है और बीजेपी मेयर ही नगर निगम में रंगारंग कार्यक्रम का उद्‌घाटन कर रहीं हैं यह बेहद दुखद है। आपको बता दें कि राष्ट्रीय शोक के दौरान सरकारी रंगारंग कार्यक्रम नहीं हो सकता है।

देखे ये VIDEO

https://www.facebook.com/278360616345509/videos/645877775873254/

Back to top button