उत्तर प्रदेश

Video: बुआ-बबुआ की रैली में घुस आया सांड, ऐसे मचाया तांडव

हेलीपैड पर कड़ी सुरक्षा के बीच सांड घुस गया

लखनऊ। कन्नौज की  रैली मेसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती तथा राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी अजित सि΄ह ने एक स्वर मे΄ मतदाताओ΄ से अपील की कि वे इस बार कन्नौज से लोकसभा प्रत्याशी डिम्पल यादव को ऐतिहासिक रिकार्ड मतो΄ से विजयी बनाए΄.इससे कन्नौज मे΄ विकास की गति तेज होगी. बसपा राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कहा इस बार लोकसभा चुनावो΄में  नमो΄-नमो की छुटटी करनी है. उसकी अब नाटकबाजी, जुमलेबाजी चलनेवाली नही΄ है.

इस बीच  कन्नौज में महागठबंधन की रैली में बड़ी घटना देखने को मिली बता दे  हेलीपैड पर उस वक्त भगदड़ का माहौल हो गया, जब हेलीपैड पर कड़ी सुरक्षा के बीच सांड घुस गया और देखते ही देखते उसने सुरक्षा व्यवस्था में लगे कर्मियों को घायल कर दिया. अखिलेश ने कहा कि सांड को काबू करने के दौरान जो जवान जख्मी हुए हैं, उन्हें वह 23 मई को चुनाव के नतीजे आने के बाद इसी ग्राउंड पर सम्मानित करेंगे.

आप विडियो में देख सकते हैं कि आखिर किस तरह इस सांड ने लगातार उछल-कूद कर डर का माहौल पैदा कर दिया. इसने कई लोगों को सीधे टक्कर मार कर जख्मी किया. इस दौरान मंच पर अखिलेश यादव भी मौजूद थे. सांड पर काबू पाने के बाद अखिलेश ने मंच से भाषण दिया. इस दौरान उन्होंने मजाकिया अंदाज में बीजेपी पर निशाना भी साधा.

देखे विडियो

इस घटना का जिक्र करते हुए ट्विटर पर अखिलेश ने लिखा

’21 महीनों में हमने एक्सप्रेसवे बनाया था, लेकिन पिछले 2 सालों में जनता 5 करोड़ आवारा पशुओं से परेशान हो गई है. अगर सरकार राजनीतिक कार्यक्रमों में सांड को घुसने से नहीं रोक पा रही है, तो गरीब किसानों का क्या हाल हो रहा होगा यह बस वही जानते होंगे.’ इसकी शिकायत अखिलेश ने डीजीपी ओम प्रकाश सिंह से भी की. अखिलेश की माने तो डीजीपी भी नहीं समझ सके कि क्या हो गया. जब सांड की बात बताई तो उनके पास कोई माकूल जवाब ही नहीं था.

कन्नौज से महागठबंधन की ओर से समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव  की पत्नी डिंपल यादव  मैदान में हैं. मायावती ने कन्नौज में उनके लिए वोट मांगे.इस दौरान मंच पर जब मायावती पहुंची को डिंपल यादव ने उनका प्रतीक चिन्ह देकर स्वागत किया. इसके बाद डिंपल यादव ने मायावती के पैर छूकर जीत का आशीर्वाद लिया. मायावती ने डिंपल यादव के सिर पर हाथ रखकर उन्हें जीत का आशीर्वाद दिया.

भाजपा ने महंगाई हटाने, नौकरिया देने, किसान की आय दुगनी करने के वादे किए थे वे पूरे नही हुए.गरीबो΄, पिछड़ो΄, दलितो΄, अलपस΄ख्यको΄ के अच्छे दिनो΄ का पता नही΄, धन्नासेठो΄ को जरूर मालामाल कर दिया. भाजपा ने नौकरियो मे आरक्षण पूरा नही΄ किया। उसकी सोच साम्प्रदायिक है। नोटब΄दी-जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है΄.

Back to top button