उत्तर प्रदेश

Video: फौजी को घसीटते हुए थाने ले गई यूपी पुलिस, वजह- उसने नाम नहीं बताया था

जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमले से पूरे देश के लोगो में आक्रोश है,. सड़को पर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लोग लगा रहे है इस बीच  लोगों ने पाकिस्तान का पुतला फूंककर अपना गुस्सा जाहिर किया और केंद्र सरकार से आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंकने की मांग की। इस बीच एक खबर ने लोगो के रौंगटे खड़े कर दिए यहाँ यूपी पुलिस ने सेना के जवान के साथ बेहद शर्मनाक काम को अंजाम दिया है.

जानिए क्या है मामला 

एक सैनिक के साथ पुलिस द्वारा बदसलूकी का मामला सामने आया है। पुलिस ने महज नाम न बताने पर सैनिक को बुरी तरह घटीसा और थाने ले गई। घटना के दौरान कुछ लोगों ने मामले का वीडियो बना लिया था, जो सोशल मीडिया पर सोमवार (18 फरवरी) को वायरल हुआ।

जानकारी के मुताबिक,

टि्वटर पर Abhay_journo नाम के हैंडल से घटना का वीडियो साझा किया गया। जानकारी के मुताबिक, यह मामला कानपुर देहात का है। क्लिप में कुछ पुलिसकर्मी गांव में थे, जिनमें दो-तीन पुलिसकर्मी सैनिक को घसीट कर ले जा रहे थे। वे कभी उसके कपड़े पकड़ कर खींचते तो कभी धक्का देते। बाद में वे पुलिस वाहन में उसे बैठाने के लिए उन्होंने खासा जोर जबरदस्ती भी की।

शुरुआत में तो सैनिक को पुलिस वालों ने धक्का देकर गाड़ी में बैठाया गया। वह नहीं बैठा, तो आगे किनारे वाले गेट से उसे गाड़ी में बैठाने का प्रयास किया, मगर वह नहीं माना। पुलिस वाले उसे उस दौरान धमका रहे थे- बैठ जाओ, वरना पिट जाओगे।

घटना के बारे में कानपुर देहात के पुलिस अधीक्षक ने बताया- घटना 14 फरवरी शाम पांच बजे के आसपास की है। थाना डेरापुर में पुलिस इंस्पेक्टर एक महिला की शिकायत पर जांच के लिए गांव पहुंचे थे। उसी दौरान पुलिस वालों का सामना फौजी सर्वेश कुमार यादव से हो गया। एक पुलिसकर्मी ने सर्वेश से पूछा- तुम कौन हो?

यादव ने जवाब दिया, “आदमी हूं। आपसे क्या?” इसी बात पर इंस्पेक्टर और फौजी के बीच कहासुनी हो गई। मामला इतना बढ़ गया कि पुलिसवाले उसे पुलिस थाना ले गए। हालांकि, दो घंटे बाद चालान कर सैनिक को छोड़ दिया गया। उसे न तो हवालात में डाला गया और न ही उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ। पुसिस के अनुसार, फिलहाल मामले की जांच क्षेत्राधिकारी के पास है। जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

Back to top button