उत्तर प्रदेशख़बर

रेप के आरोप में बुरे फंसे योगी के मंत्री, बोले- अगर पाया गया दोषी तो कुत्ते से नुचवा लेना मांस

Image result for गुस्से में योगी

लखनऊ के सीजेएम कोर्ट में एक महिला ने वरिष्ठ भाजपा नेता और प्रदेश सरकार के मंत्री सुरेश कुमार खन्ना पर रेप का आरोप लगाते हुए मुकदमा पंजीकृत करने को अर्जी दी है। प्रदेश सरकार के मंत्री द्वारा ‘बेबुनियाद आरोप’ का ट्वीट किए जाने के बाद मामला ज्यादा गरम हाे गया। प्रदेश सरकार के मंत्री ने शनिवार को रात्रि 10 बजे ट्वीट किया कि सीजीएम कोर्ट, लखनऊ में मेरे खिलाफ दिए गये प्रार्थनापत्र में लगाये गए आरोप पूर्णतया मिथ्या व बेबुनियाद हैं। इसकी जैसी चाहे जांच करा ली जाए। यदि जरा भी सच्चाई निकले तो मेरा मांस चौराहे पर कुत्तों से नुचवाया जाए।’

सुरेश खन्ना व उनके पीआरओ समेत चार के खिलाफ कोर्ट में अर्जी

महिला ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से सीजेएम कोर्ट में अर्जी लगाते हुए उत्तर प्रदेश के मंत्री सुरेश कुमार खन्ना और गोमती नगर स्थित हेल्थ सिटी हॉस्पिटल के मालिक डॉ. वैभव खन्ना और मंत्री के पीआरओ सुचित सेठ समेत चार पर रेप का आरोप लगाया है। महिला ने पत्र में लिखा है कि उसको बहला-फुसला दुराचार किया गया। इस मामले में ही भाजपा नेता की ओर से सीजेएम कोर्ट को जवाब भेजते हुए आरोपों को गलत बताया गया है। 

वजीरगंज थानाध्यक्ष बोले

वजीरगंज थानाध्यक्ष अजय कुमार सिंह ने बताया कि रविवार की सुबह तक सीजेएम कोर्ट का कोई आदेश नहीं मिला है। उन्होंने कहा कि अगर महिला के साथ कोई घटना हुई है तो उसको सबसे पहले पुलिस के पास आना चाहिए। फिर अगर पुलिस मुकदमा पंजीकृत नहीं करती तो सीजेएम कोर्ट जाना चाहिए था। लेकिन ऐसा हुआ नहीं, वह महिला थाने नहीं आयी। फिलहाल सीजेएम का आदेश मिलने पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया जाएगा।

जांच करालो सच निकले तो मेरा मांस कुत्तों से नुचवाया जाए: दुष्कर्म के आरोप पर बोले मंत्री सुरेश खन्ना

7 मई को मामले की अगली सुनवाई

सीजेएम आनंद प्रकाश सिंह ने मामले की सुनवाई की तारीख सात मई रखी है। तब तक थाने को मामले की कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल करनी है। महिला का आरोप है कि वह अपनी मूक-बधिर बच्ची का इलाज कराने गई थी, जिसके बाद उसके साथ रेप किया गया और ब्लैकमेल किया गया।

Back to top button