उत्तर प्रदेश

कोरोना की तीसरी लहर से एकदम सेफ रहेगा यूपी, ऐसा फुलप्रूफ प्लान बनाए हैं योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( CM Yogi Adityanath) ने मेरठ में कोरोना (Coronavirus) महामारी नियंत्रण के लिए बनाए गए एकीकृत कमांड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण करते हुए तमाम व्यवस्थाओं की बारीकी से जानकारी ली है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कंट्रोल सेंटर कोरोना महामारी से लड़ाई में एक बैकबोन है। उन्होंने कहा कि इसकी मदद से हम हर चीज को कंट्रोल व मॉनिटर कर सकते हैं। उन्होंने होम आइसोलेशन, कंट्रोल रूम का निरीक्षण कर होम आइसोलेट मरीजों से निरंतर संपर्क में रहने के निर्देश दिए।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर (Third Wave of Coronavirus) से निपटने के लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह से तैयार है। इसके लिए सभी तैयारियां अभी से की जा रही हैं। उन्होंने तीसरी लहर से निपटने के लिए सभी जिलों में आईसीयू अस्पताल बनाने के निर्देश दिए हैं। योगी आदित्यनाथ ने कलेक्ट्रेट स्थित एकीकृत कमांड कंट्रोल सेन्टर का निरीक्षण कर प्रत्येक पटल पर किये जा रहे कार्यों की बारीकी से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि कंट्रोल रूम के माध्यम से कोरोना मरीजों को सुगमता से अस्पतालों में भर्ती कराया जाए तथा यह सुनिश्चित किया जाए कि मरीज को किसी प्रकार की तकलीफ न हो। मरीजों को अस्पताल में अच्छा उपचार, गुणवत्तापरक भोजन व अच्छा वातावरण उपलब्ध हो।

मरीजों की सेवा अपने परिवार के सदस्य की तरह करें : सीएम

सीएम योगी ने होम आइसोलेशन के लिए बचत भवन में बनाए गये कंट्रोल रूम का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों से निरंतर संपर्क किया जाए और मरीजों को मेडिकल किट आवश्यक रूप से उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा कि मरीजों की सेवा अपने परिवार के सदस्य की तरह करें। सभी अधिकारी, कर्मी, चिकित्सक गंभीरता, तत्परता व पारदर्शिता से कार्य करें।

7559 मरीज होम आइसोलेशन में

सीएमओ डाॅ. अखिलेश मोहन ने बताया कि वर्तमान में 1793 कोरोना मरीज विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं और 7559 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। इस दौरान प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री संजय प्रसाद, जिलाधिकारी के बालाजी, सीएमओ डाॅ. अखिलेश मोहन, सिटी मजिस्ट्रेट सत्येन्द्र कुमार सिंह समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Back to top button