उत्तर प्रदेश

मुठभेड़ में फेल हुईं यूपी पुलिस की बंदूकें, सिपाही बोले- ठाएं-ठाएं

यूपी: एनकाउंटर के लिए गई पुलिस की बंदूक ने दिया धोखा, मुंह से निकाली ठाय-ठाय की आवाज

संभल। योगी पुलिस को अपने सरकारी हथियारों की वजह से हमेसा शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा है। एक ऐसा ही मामला संभल जिले में सामने आया, जहां यूपी पुलिस की टीम एक बदमाश का पीछा कर रही थी। बदमाश भागकर जंगल की तरफ चला गया। इस दौरान बदमाश पुलिस वालो की पकड़ से दूर होने लगा। यह देखते ही पुलिसवालों गोली चलाने के बारे में सोचा। जैस ही दरोगा ने अपनी बंदूक निकालकर गोली चलानी चाही बंदूक ने जवाब दे दिया। पुलिसवालों की कई कोशिशों के बाद भी गोली नहीं चली। इधर बदमाश भी उनकी पकड़ से दूर भी होता जा रहा था। बदमाश हाथ से ना निकल जाए इसके लिए पुलिस ने गोली चलने की आवाज मुंह से निकालना शुरू कर दिया। अब ये पूरा मामला सोशल मीडिया पर भी ट्रोल हो रहा है।

यह घटना शुक्रवार की है जहां पुलिस और बदमाशों के बीच असमोली थाने इलाके में मुठभेड़ हुई। मुंह से गोली चलाने का यूपी पुलिस का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। हालांकि इन सबके बीच पुलिसवालों की तारीफ तो बनती है। इसी घटनाक्रम में पुलिस ने 25 हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार कर लिया। इस मुठभेड़ में इंस्पेक्टर व एक सिपाही गोली लगने से घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बदमाश के साथ एक और था जो कि अंधेरे का फायदा उठाते हुए पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। पुलिस गिरफ्त में आए इनामी बदमाश से पुलिस पूछताछ कर रही है।

इस घटना के बारे में पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि देर रात वाहन चेकिंग की जा रही थी। इस बीच एक गाड़ी को जब रोकने का प्रयास किया गया तो वह नहीं रुकी। गाड़ी सवारों ने पुलिस को देखते ही बैरिकेटिंग तोड़ भागने लगे। इस घटना के बाद पुलिस वालों ने गाड़ी सवार लोगों की घेराबंदी कर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस द्वारा जवाबी कार्रवाई में गाड़ी में बैठे एक बदमाश को गोली लग गई जिसकी पहचान मुदित शर्मा के रूप में हुई है। प्रशासन ने इस बदमाश के ऊपर 25 हजार का इनाम रखा था।

आपको बता दें कि गिरफ्तार बदमाश के पास से लूट की स्कार्पियो कार सहित 315 बोर तमंचा और 5 कारतूस बरामद किए गए हैं। मुदित शर्मा के ऊपर एक दर्जन से ज्यादा मामलों में केस दर्ज है। हालांकि पुलिस की मुंह से गोली चलाने की आवाज के कारण पुलिस विभाग को बेहद अपमान तथा ट्रोल का सामना करना पड़ रहा है।

 

Back to top button