देश

चीख-चीख कर बोलते हैं ये सारे सवाल, उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के साथ जो हुआ, वो ‘हादसा’ नहीं है

रविवार दोपहर यूपी के उन्नाव वाले बहुचर्चित गैंररेप केस की पीड़िता की गाड़ी को एक ट्रक ने टक्कर मार दी. हादसे में कार सवार पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई, जबकि पीड़िता और वकील अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं. इस मामले में परिजनों ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक्सीडेंट करवाने का आरोप लगाया है.

ये वही पीड़िता है, जिसके गैंगरेप के इल्जाम में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर कई महीनों से जेल में बंद हैं. इस सड़क हादसे के बाद पीड़िता की बहन का का कहना है कि विधायक समर्थक लगातार सुलह समझौते के लिए धमकी दे रहे थे और केस में पैरवी कर रही चाची को जान से मारने की धमकी दी थी. वहीं पीड़िता की मां ने कहा कि विधायक रोज कचहरी में मारने की बात करता था, आखिर एक्सीडेंट करवा दिया.

वहीं, जिस ट्रक ने पीड़िता की कार को टक्कर मारी थी, उसको लेकर भी कई सवाल उठने लगे हैं. दरअसल जिस ट्रक से रायबरेली में पीड़िता की कार को टक्कर मारी गई है. उस ट्रक के नंबर प्लेट पर ग्रीस पुती हुई थी. इस वजह से ट्रक के नंबर को पढ़ा नहीं जा सकता है. ऐसे में ये सवाल इस हादसे के पीछे किसी साजिश की ओर इशारा करते हैं.

  1. जिस ट्रक ने टक्कर मारी उसकी नंबर प्लेट पर कालिख क्यों पुती हुई थी?

  2. टक्कर मारने के लिए ट्रक अपनी लाइन छोड़ कर रॉन्ग साइड कैसे आ गया?

  3. पीड़िता को कई सुरक्षाकर्मी मिले थे, लेकिन वो हादसे के वक्त साथ क्यों नही थे?

  4. क्या पहले से किसी को सूचना थी कि पीड़िता अपने वकील और परिवार के साथ उन्नाव से रायबरेली जा रही थी?

  5. पीड़िता का परिवार आरोप लगा रहा है की जेल में बंद विधायक के लोग लगातार धमका रहे थे तो क्या इस हादसे को किसी साजिश के तहत अंजाम दिया गया है?

Back to top button