धर्म

आज जिसने भी उठते ही किया ये काम, देखते ही देखते बन जाएंगे धनवान

Image result for मालामाल

कभी कोई गरीब नहीं बनना चाहेगा. यहाँ तक कि जो अमीर हैं वो भी हमेशा और अधिक पैसा कमाने की सोचते रहते हैं. आप ने ये भी नोटिस किया होगा कि कई बार कोई गरीब अचानक से अमीर बन जाता हैं तो कोई अमीर गरीबी की गिरफ्त में आ जाता हैं. ये सारा खेल आपके घर की पॉजिटिव और नेगेटिव एनर्जी का होता हैं. जिस घर में अधिक नेगेटिविटी होती हैं वहां पैसा कभी भी ज्यादा दिनों तक नहीं टिकता हैं. ऐसे घरो में कुछ ना कुछ नुकसान होता रहता हैं. इस घर के सदस्यों की किस्मत भी काफी खराब होने लगती हैं और ये जिस भी काम में हाथ डालते हैं वो बिगड़ जाता हैं.

ऐसा माना जाता है कि जिन लोगों की कुंडली में ग्रह दोष होते हैं, उन्हें देवी-देवताओं का भी आशीर्वाद नहीं मिलता है। ऐसे लोगों के किसी भी शुभ काम का फल उन्हें नहीं मिलता है।  कुंडली के दोष और दुर्भाग्य से छुटाकारा पानें के लिए कई तरह के उपाय बताये गए हैं। अगर कुंडली दोष से पीड़ित व्यक्ति इन उपायों को अपनाता है तो उसका जीवन पहले की तरह हो जाता है। आमतौर पर धरना यह है कि देवी-देवताओं की पूजा-पाठ और ध्यान नहाने के बाद ही करना चाहिए। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे शुभ कार्य के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे नहाने से पहले ही करना चाहिए। इससे व्यक्ति के जीवन में कुछ ही समय में खुशियाँ आने लगती हैं।

समस्याएं हर किसी के जीवन का हिस्सा होती हैं। किसी के जीवन में कम समस्याएं होती हैं तो किसी के जीवन में बहुत ज्यादा समस्याएं होती हैं। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि समस्याएं किसके जीवन में हैं। स्त्री हो या पुरुष किसी भी समस्या से दोनों के जीवन पर प्रभाव पड़ता है। इसलिए शास्त्रों के अनुसार सुबह जागते ही स्त्री या पुरुष दोनों को इस मंत्र का जाप करना चाहिए।

मंत्र:
ब्रह्मा मुरारिस्त्रिपुरान्तकारी भानुः शशी भूमिसुतो बुधश्च।
गुरुश्च शुक्रः शनि राहुकेतवः कुर्वन्तु सर्वे ममसुप्रभातम्॥

ऐसा माना जाता है कि इस मंत्र का जाप करने से सभी देवी-देवता प्रसन्न होते हैं और नौ ग्रहों की कृपा प्राप्त होती है। इस मंत्र का शाब्दिक अर्थ है,ब्रह्मा, विष्णु, शिव, सूर्य, चन्द्र मंगल, बुध, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु और केतु सभी मेरे सुबह को मंगल बनायें।
जो भी व्यक्ति इस मंत्र का जाप सुबह जागते ही करते हैं, उन्हें जीवन के दुर्भाग्य से मुक्ति मिल जाती है।

हमारे हाथ में ही तीन देवी-देवताओं का निवास होता है। इसलिए सुबह-सुबह हमें मंदिर जानें की भी आवश्यकता नहीं होती है। हथेली के अगले भाग में लक्ष्मी, मध्य भाग में सरस्वती और हथेली के मूल में भगवान विष्णु का वास होता है। इसलिए सुबह जागने के बाद सबसे पहले अपनी हथेली को देखने और इस मंत्र का जाप करें।

मंत्र:
कराग्रे वसते लक्ष्मीः करमध्ये सरस्वती।
करमूले तू गोविंद: प्रभाते करदर्शनम्॥

हिन्दू धर्म शास्त्रों के अनुसार हर पुरुष और महिला को ब्रह्म मुहूर्त यानी सूर्योदय से पहले ही जग जाना चाहिए। जो लोग सुबह देर तक सोते हैं, उनकी बुद्धि कम होती है और उनके जीवन में दुर्भाग्य बढ़ता है। इसलिए भूलकर भी सुबह ज्यादा देर तक नहीं सोना चाहिए।

Back to top button