धर्म

आप पर हुए जादू-टोने के वार का बजरंगबली देंगे जवाब, जानिए कैसे 

Image result for जादू-टोने के वार का बजरंगबली

ज्योतिष शास्त्र, वास्तु शास्त्र, सामुद्रिक शास्त्र, ऐसी ही कुछ विधाएं हैं जिनके प्रयोग से हम जीवन में आ रहे संकटों के रुख मोड़ सकते हैं। तकलीफ होने पर लोग इन शास्त्रीय उपायों का प्रयोग करते हैं, लेकिन पहले भी यदि ये उपाय किए जाएं तो परेशानी का मुख नहीं देखना पड़ेगा। खैर यहां हम आपको  कुछ शास्त्रीय उपायों की चर्चा करने जा रहे हैं। आशा है कि आपको ये उपाय पसंद आएंगे और आप इनका प्रयोग कर अपने जीवन और भी बेहतर बना सकेंगे.  बताते चले जब किसी पर पर कोई भूत प्रेत का संकट आता है तो हम सबसे पहले हम सब मान जी को याद करते है और हनुमान जी हमारे संकट को हर लेते है आज हम आपको ऐसे उपाय के बारे में आपको बताने वाले है जिसको करने से हनुमान जी आप पर चल रहे जादू टोना आदि को ख़त्म कर देंगे,इस उपाय के बारे में हम आपको नीचे बता रहे है!

आपको प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करना है वो भी पूरी विधि विधान से ,शाम को पवित्र हो कर घर या मन्दिर में जा कर हनुमान चालीसा का पाठ करे इससे उपरी शक्तियों से हमें छुट्टी मिल जाती है और जीवन मे आ रही परेशानियों का भी अंत हो जाता है ,हनुमान चालीसा का पाठ करने के बाद हनुमान जी की आरती करे !

आरती –

आरती कीजै हनुमान लला की। दुष्ट दलन रघुनाथ कला की।।

जाके बल से गिरिवर कांपे। रोग दोष जाके निकट न झांके।।

अनजानी पुत्र महाबलदायी। संतान के प्रभु सदा सहाई।

दे बीरा रघुनाथ पठाए। लंका जारी सिया सुध लाए।

लंका सो कोट समुद्र सी खाई। जात पवनसुत बार न लाई।

लंका जारी असुर संहारे। सियारामजी के काज संवारे।

लक्ष्मण मूर्छित पड़े सकारे। आणि संजीवन प्राण उबारे।

पैठी पताल तोरि जम कारे। अहिरावण की भुजा उखाड़े।

बाएं भुजा असुरदल मारे। दाहिने भुजा संतजन तारे।

सुर-नर-मुनि जन आरती उतारे। जै जै जै हनुमान उचारे।

कंचन थार कपूर लौ छाई। आरती करत अंजना माई।

लंकविध्वंस कीन्ह रघुराई। तुलसीदास प्रभु कीरति गाई।

जो हनुमान जी की आरती गावै। बसी बैकुंठ परमपद पावै।

आरती कीजै हनुमान लला की। दुष्ट दलन रघुनाथ कला की।

इसके अलावा आपको रात में सोते समय हनुमान चालीसा तकिये के नीचे रखना है और साथ ही सिरहाने के पास में एक लोटा जल और उसमे थोडा चंदन डाल दे सुबह उठते ही इस जल को तुलसी के पौधे पर चढ़ा देना है ,इससे आपकी सारी परेशानियाँ ख़त्म हो जाएँगी और अगर आपको किसी की नजर लग गयी है तो आपको करना बस इतना है की हनुमान जी पर सिन्दूर चढ़ाना है और इस सिन्दूर को अपने माथे पर लगाना है इससे नजर का दोष ख़त्म हो जायेगा !

Back to top button