क्राइम

जवान की निकलने वाली थी बारात, प्रेमिका ले आई पुलिस, पहुंच गया हवालात

रांची । गढ़वा जिला के भंडरिया थाना क्षेत्र के नौका गांव निवासी कैलाश सिंह के बेटे बीएसएफ के जवान महेश सिंह की शादी उसकी प्रेमिका की शिकायत पर पुलिस ने मंगलवार को रुकवा दी। पुलिस की कार्रवाई की सूचना मिलते ही प्रेमी बीएसएफ का जवान फरार हो गया। थाना प्रभारी शंभू प्रसाद गुप्ता ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज करने के बाद मेडिकल जांच के लिए लड़की को गढ़वा सदर अस्पताल भेजा गया है। लड़का घर से फरार है। महेश सिंह की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी चल रही है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
बताया जाता है कि नौका गांव निवासी कैलाश सिंह के बेटे महेश सिंह की शादी रंका थाना क्षेत्र के गोबरदाहा गांव में तय हुई थी। मंगलवार को बारात जाने वाली थी। इसकी सूचना मिलने पर पलामू जिला के रामगढ़ थाना क्षेत्र के उतेड़ निवासी प्रेमिका बीएसएफ जवान के पास पहुंची और शादी नहीं करने को कहा। उसने आरोप लगाया कि शादी का प्रलोभन देकर जवान वर्षों से यौवन शोषण कर रहा है। ऐसे में वह किसी दूसरे से शादी नहीं कर सकती। इसके बाद प्रेमी महेश सिंह ने उक्त लड़की से शादी करने से इनकार कर दिया।
इसके बाद आक्रोशित प्रेमिका भंडरिया थाने पहुंच गई। उसने थाना प्रभारी शंभू प्रसाद गुप्ता को आप बीती सुनाई और प्रेमी महेश सिंह के विरुद्ध शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई। साथ ही महेश सिंह की शादी रुकवाने का आग्रह किया। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद पुलिस ने प्रेमी महेश के घर पहुंची और शादी को रुकवाया। हालांकि इस दौरान पुलिस के आने की  भनक लगते ही बीएसएफ का जवान वहां से भाग निकला।
पीड़ित प्रेमिका ने बताया कि महेश के साथ पिछले चार-पांच वर्षों से प्रेम प्रसंग चल रहा है। उसने शादी का झांसा देकर कई बार यौन शोषण भी किया। वह किसी दूसरे के साथ शादी नहीं करने की धमकी भी देता था। इसी बीच महेश के घर वालों ने उसकी शादी रंका थाना क्षेत्र के गोबरदाहा में तय कर दी। तिलक चढ़ने के बाद इस बात की जानकारी मिली तो थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी।
Back to top button