खेलजरा हट के

T20 World Cup : टीम इंडिया के लिए हर मैच जीतना जरूरी, न्यूजीलैंड से मुकाबला होगा बेहद अहम

टी20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ ऐतिहासिक हार ने टीम इंडिया के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। इस मैच में हार के बाद अब भारतीय टीम को टूर्नामेंट में अपने बाकी बचे चारों मैच हर हाल में जीतने होंगे, वरना सेमीफाइनल में पहुंचने पर उनका सामना इंग्लैंड से हो सकता है, जिसे फिलहाल टी20 क्रिकेट में हराना बेहद मुश्किल माना जाता है।

अब एक भी मैच हारे तो अंतिम-4 की होड़ टिकेगी आंकड़ों पर
भारतीय टीम के ग्रुप में पाकिस्तान के अलावा न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान, नामीबिया और स्कॉटलैंड की टीमें हैं। यदि परंपरागत नजरिये से देखा जाए तो दोनों एसोसिएट देशों नामीबिया और स्कॉटलैंड के खिलाफ टीम इंडिया, न्यूजीलैंड और पाकिस्तान आसानी से जीत जाएंगी, यानी इन मैचों में तीनों टीमों को 2-2 अंक मिलना तय है।

अफगानिस्तान के खिलाफ मुकाबले की बात करें तो तीनों ही टीम की हार या जीत मैच वाले दिन उनके परफॉर्मेंस पर निर्भर करेगी, क्योंकि अफगानिस्तान की टीम टी20 क्रिकेट में कोई भी उलटफेर कर सकती है।

यदि हम यह मान लें कि अफगानिस्तान से भी तीनों टीम अपना-अपना मैच जीत लेंगी तो ग्रुप में पाकिस्तान जहां 8 अंक के साथ टॉप पर होगी, वहीं भारत-न्यूजीलैंड 6-6 अंक के साथ दूसरे नंबर पर रहेंगी।

न्यूजीलैंड से मुकाबला होगा बेहद अहम
भारत को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए जहां हर हाल में न्यूजीलैंड को हराकर अपने 8 अंक करने होंगे, वहीं यह उम्मीद भी करनी होगी कि पाकिस्तान को भी न्यूजीलैंड पर जीत मिल जाए। ऐसी स्थिति में भारतीय टीम दूसरे नंबर पर रहकर सेमीफाइनल का टिकट हासिल कर लेगी।

यदि न्यूजीलैंड की टीम पाकिस्तान को हराने में सफल हो गई तो ग्रुप में तीनों ही टीम के 8-8 अंक हो जाएंगे। इन हालात में सेमीफाइनल का टिकट रन औसत से तय होगा, जिसमें कोई भी टीम आगे निकल सकती है।

दूसरे नंबर पर रहे तो भिड़ना होगा इंग्लैंड से
पिछले कुछ समय के दौरान टी20 क्रिकेट में इंग्लैंड की टीम की परफॉर्मेंस जबरदस्त रही है। इस आधार पर उसका अपने ग्रुप में सभी मैच जीतकर पहले नंबर पर रहना तय माना जा रहा है। ICC वर्ल्ड टी20 रैंकिंग में भी इंग्लैंड लगातार पहले नंबर पर है, जो उसकी मजबूती को दिखाता है।

यदि भारत अपने ग्रुप में दूसरे नंबर पर रहता है तो सेमीफाइनल में उसका सामना इंग्लैंड के साथ होगा। ऐसे में उसके लिए फाइनल की राह में एक कड़ी चुनौती खड़ी हो सकती है। दूसरी तरफ यदि सेमीफाइनल में उसे ऑस्ट्रेलिया, श्रीलंका या दक्षिण अफ्रीका से भिड़ना पड़ता है तो उसके जीतने की संभावना थोड़ी ज्यादा रहेगी।

Back to top button