जरा हट के

शहीद मेजर की पत्नी ने बताया- फौजी से क्या सोचकर शादी करती है कोई लड़की

एक फौजी की पत्नी कभी ये सोचकर शादी नहीं करती कि आगे क्या होगा…यह एक ऐसी भावना है, जिसे बयां नहीं किया जा सकता। रिस्क हमेशा है और आपको इसे स्वीकार करना होता है। साथ ही एक फौजी की तरह बहादुर बनना पड़ता है’। यह कहना है पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद हुए मेजर विभूति ढौंढियाल की बहादुर पत्नी निकिता कौल का।

पुलवामा हमले के बाद पूरा देश गमजदा है। हर किसी की आंख नम है। लेकिन शहीदों के परिवार का जज्बा अब भी कायम है। शहीद मेजर की पत्नी निकिता कौल ढौंडियाल ने कहा कि उन्हें अपने पति की शहादत पर गर्व है। उन्होंने कहा कि ये बड़ा दुख है लेकिन इस बात का गर्व है कि उनके पति ने देश और जनता के लिए त्याग किया।

‘जो चले गए उनसे कुछ सीखें’ : शहीद मेजर की पत्नी निकिता कौल ढौंडियाल ने कहा कि ‘जो चले गए उनसे कुछ सीख लें, दुनिया में बहुत सी चीजें होती हैं। पर सबसे बड़ी चीज होती है कौन किसके लिए कितना बलिदान देता है। यह जरूरी नहीं होता है कि आप डिफेंस में रहते हुए ही यह कर सकते हो। अगर आप किसी और फील्ड में हो आप जॉब करते हैं या कुछ भी करते हो आपको अपना काम ईमानदारी से करना चाहिए। ऐसा करने से बहुत सी चीजें तो अपने आप ठीक हो सकती हैं। अगर हम अपना काम ईमानदारी से करें तो बहुत से लोगों की जान तो वैसे ही बच जाएगी।’

सैल्यूट और फिर I Love You बोलकर दी विदाई : अंतिम विदाई के वक्त मेजर की मां और उनकी पत्नी निकिता की आंखों के आंसू थमने का नाम नहीं ले रहे थे। मेजर ढौंढियाल की पत्नी निकिता ने रोते हुए अपने पति को I Love You बोलकर विदाई दी। ये तस्वीर जिसने भी देखी उसकी आंखों से आंसू छलक पड़े। इससे पहले निकिता ने अपने शहीद पति को सैल्यूट भी किया। आपको बता दें मेजर ढौंढियाल और निकिता की शादी 10 महीने पहले ही हुई थी।

Back to top button