क्राइम

CM तक को गिरफ्तार कर चुकी है ये लेडी सिंघम, छोटी सी नौकरी में हुआ इतनी बार ट्रांसफर….

हमारे भारत में हमेशा से ही महिलाओ की देश के प्रति एक अलग ही रुचि रही हैं. भारत देश की महिलाओ ने देश के लिए जान की बाज़ी तक देने में कोई कसर नहीं छोड़ी है. भारत जैसे महान देश ने महारानी लक्ष्मी बाई और मदर टरेसा जैसी महिलाओ को जन्मा है. आज की पोस्ट बेहद ख़ास है क्यूंकि इसमें हम आपको एक ऐसी ही महिला से रूबरू कराने जा रहे हैं. इन्होने अपनी पुलिस की नौकरी में वो न्याय करके दिखाया है, जिसके बारे बड़े बड़े लोग बस सोचते रह जाते है. हम बात कर रहे हैं तेज़ तर्रार अफसरों में शुमार IPS डी. रूपा की…

डी रूपा केवल फील्ड पर ही नहीं बल्कि इंटरनेट और सोशल मिडिया प्लेटफार्म पर भी अपनी सक्रियता के लिए काफी पॉपुलर हैं. वो कभी भी किसी सामाजिक मुद्दों पर बोलने से घबराती नहीं है. ये सच मे अपने आपमें काबिले तारीफ है.

इस समय डी रूपा कर्णाटक पुलिस में IG के पद पर कार्यरत है. फिलहाल वो होमगॉर्ड और सिविल डिफेंस की कमान संभल रही है. इससे पहले वो DIG के पद पर थी. उस समय वह बहुत सुर्खियों में थी जब जय ललिता के करीबी और भ्रष्टाचार में लिप्त कर्णाटक के AIADMK के नेता शशिकला को जेल के अंदर मिलने वाली VIP सुविधाओं का भांडाफोड़ किया था.

आज हम बताने जा रहे हैं की वह अपने ट्वीट पोल की वजह से चर्चा में हैं. उन्होंने इस ट्वीटर पोल में आम जनता से एक सवाल किया की कितने अब तक कितने लोग पुलिस के संपर्क में आ चुके हैं और उनका पुलिस को लेकर क्या विचार है. उनकी इस पोल में लगभग 51 प्रतिशत लोगो का जवाब था नकारात्मक.

साल २००४ में उमा भारती के नाम वारंट निकला था, तब उन्हें गिरफ्तार किया करने के लिए ये महिला IPS अकेली निकल पड़ी थी. जबकि उस समय उमा भारती मौजूदा मुख्यमंत्री थी, लेकिन उमा भारती ने वारंट निकलने के बाद इस्तीफा दे दिया था.

Back to top button