उत्तर प्रदेश

मंदिर के लिए संदीप कर रहे दिन-रात काम, 51 हजार ईंटों पर लिख रहे राम का नाम

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद से ही बहुत सारे भक्त मंदिर निर्माण के लिए उत्साहित नजर आ रहे हैं। वे मंदिर निर्माण के लिए दान और योगदान देने के लिए आगे आने लगे हैं। इसी क्रम में अयोध्या का एक और भक्त सामने आया है, जिसने राम मंदिर पर फैसला आने के बाद से ही 51 हजार भगवान राम का नाम अंकित ईंटें बनवानी शुरू कर दी है।

अयोध्या के तकपुरा निवासी व ईंट भट्ठा मालिक संदीप वर्मा ने आईएएनएस को बताया कि सुप्रीम कोर्ट फैसले के बाद से ही अव्वल दर्जे की 51 हजार रामनामी ईंटें तैयार कराई जा रही हैं, ताकि उन ईंटों से रामलला के गर्भगृह की नींव भरी जा सके।

उन्होंने बताया कि जिस जगह ईंटे तैयार हो रही हैं, उस जगह को साफ – सुथरा रखा गया है। इसमें मजदूरों को जूते-चप्पल पहनकर जाने की इजाजत नहीं है।

संदीप ने बताया कि रामनामी ईंटें विशेष तरह की मटियारी मिट्टी से बनाई जा रही हैं। ईंट में शुद्धता का भी पूरा ध्यान रखा गया है। ईंटें पाथने के लिए 16 मजदूर लगे हैं, जो रात-दिन मेहनत करके 51 हजार ईंटें तैयार करेंगे। इसके लिए 5 विशेष प्रकार के सांचें तैयार कराए गए हैं।

संदीप ने बताया कि ईंटो को बनाने में करीब तीन से साढ़े तीन लाख रुपये के बीच खर्चा आएगा। अब तक करीब 5 हजार कच्ची ईंटें तैयार हो गई हैं। इन्हें पकाने में लगभग 1 माह का वक्त लगेगा।

उन्होंने कहा, हमारी बस इतनी मंशा है कि जब रामलला के मंदिर की नींव बने तो पहली रामनामी ईंट हमारी लगे। राम के प्रति आस्था के कारण ही हमने यह कदम उठाया है। इसमें किसी प्रकार की कोई राजनीति शामिल नहीं है। बस एक भक्त का अपने भगवान के प्रति समर्पण है।

Back to top button