उत्तर प्रदेश

सपा बैनरों से सजा मंच, पीछे अखिलेश का पोस्टर और प्रियंका गांधी का भाषण कैसे ?

 सपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करती प्रियंका गांधी वाड्रा (PTI)

  • समाजवादी मंच से केंद्र में कांग्रेस सरकार बनाने की हुंकार 
  • सपाइयों ने दिखाई ताकत , कांग्रेस ने दिखाई दरियादिली 
ऊंचाहार। मंच सपा का बात कांग्रेस को जिताने की।  ऐसा नजारा जिसे देखकर प्रदेश की जनता अवश्य भ्रमित हो जाए लेकिन यह रायबरेली का यथार्थ है। गुरुवार को सपा ने भारी भीड़ जुटाकर अपनी ताकत का एहसास कराया तो सपा के इस मंच से प्रियंका गांधी ने केंद्र कांग्रेस की सरकार बनाने की अपील करके बड़ा दांव भी खेल दिया है।
गुरुवार को ऊंचाहार में सपा का कार्यकर्ता सम्मेलन था , इस सम्मेलन में हजारो की भीड़ जुटी। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी थी। इस सपा के आयोजन में पूरे समय केवल कांग्रेस की बात ही नहीं हुई अपितु कांग्रेस का गुणगान भी जमकर हुआ। सोनिया गांधी द्वारा रायबरेली मे कराये गए विकास को लेकर सपा हमेशा कांग्रेस पर झूठ , फरेब का आरोप लगाकर हमला करती रही है द्य लेकिन आज न सिर्फ माहौल जुदा था , अपितु जुबान भी जुदा थी। रायबरेली में सोनिया गांधी के कामों की जमकर तारीफ हुई। प्रियंका गांधी ने अपने सम्बोधन मे सपा के मंच से बाकायदा यह आवाहन किया कि केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनाने के लिए कांग्रेस के पक्ष में मतदान करें। कांग्रेस के आयोजक प्रदेश के पूर्व मंत्री डा मनोज कुमार पाण्डेय ने भी सपा के एक एक कार्यकर्ता से कहा कि पूरी ताकत से कांग्रेस को जिताने के लिए लग जाए।
ऊंचाहार की सियासत के विपरीत धुरी भी एक मंच पर 
सपा सम्मेलन में प्रियंका गांधी की मौजूदगी से ज्यादा चर्चा मंच पर मौजूद रहे कांग्रेस के पूर्व विधायक कुँवर अजय पाल सिंह की हो रही है। ऊंचाहार विधान सभा से कुँवर अजय पाल सिंह कांग्रेस और डा मनोज कुमार पाण्डेय सपा से विधान सभा का चुनाव लड़ते हैं।
2017 के लोकसभा चुनाव मे सपा कांग्रेस का गठबंधन हुआ तो ये दोनों लोग अपनी अपनी पार्टी से चुनाव लड़ने की जिद पर अड़  गए द्य दोनों की अपनी अपनी पार्टी मे अच्छी ख़ासी पकड़ है द्य मनोज अखिलेश के खास है तो कुँवर साहब राहुल प्रियंका दोनों के काफी करीब माने जाते है द्य अंततः ऊंचाहार मे दोनों पार्टियां चुनाव लड़ी थी द्य इन दोनों नेताओ मे इतनी दूरियाँ है कि आपस मे कभी औपचारिक बात भी नहीं होती है द्य गुरुवार को जब दोनों विपरीत धुरी के नेता एक एक साथ नजर आए तो क्षेत्रीय लोगो के लिए एक आश्चर्य जनक घटना थी द्य हालांकि आज भी दोनों नेता एक साथ मंच पर आए तो , लेकिन दोनों मे कोई शिष्टाचार अभिवादन तक नहीं हुआ। यही नहीं , जब मनोज पाण्डेय भाषण दे रहे थे तो प्रियंका कुँवर अजय पाल सिंह से पूरे समय बात करती रही।
ऊंचाहार विधान सभा में आठ जगह हुई सभा 
गुरुवार को ऊंचाहार विधान सभा क्षेत्र मे प्रियंका गांधी ने कुल आठ चुनावी सभाओ को संबोधित किया। उन्होंने क्षेत्र के जगतपुर से चुनावी सभा की शुरुआत की। उसके बाद चड़रई चौराहा , बाबूगंज , सवैया तिराहा , जमुनापुर , मतीन गंज , गदागंज , डलमऊ आदि स्थानो पर सभाओ को संबोधित किया। इस मौके पर उनके साथ सोनिया गांधी के प्रतिनिधि के एल शर्मा , सादर विधायक अदिति सिंह , पूर्व विधायक कुँवर अजय पाल सिंह आदि लोग मौजूद रहे।
प्रियंका गांधी जब पहुंची दलित की बरात निकालने तो……
ऊंचाहार विधानसभा के अन्तर्गत गदागंज थाना क्षेत्र के अन्तर्गत गांव सैय्यदराजेपुर निवासी दलित कमलकुमार पुत्र देषराज की शादी होने पर आज बरात जानी थी जिसमे दूल्हे के सारे रष्मे भरे ही जा रहे थे कि एकाएक प्रियंका गांधी ऊंचाहार से गदागंज होते हुए सरेनी की ओर जाते समय दलित के घर पहुंच गई और उसके घर पर पहुंचकर वहां की सारी रष्मों में प्रतिभाग करती रही और मीडिया का प्रवेष अदंर वर्जित होने पर दलित के घर में कमल कुमार की बरात को दुल्हन के घर विदा करते दौरान हो रहे रष्मो मे जब प्रियंकागांधी पहुंची तो वो फूले नही समाया और तो और वह यही चकित रहा है कि हम एक गरीब है मेरे घर मे आकर मुझसे ही नही मेरे परिवार व रिस्तेदारो तक से रूबरू हुई जिसमे वहां पर उपस्थिति सभी लोग कह रहे थे कि प्रियंका गांधी अपने दादी इंदिरागांधी की तर्ज पर चल रही है।
चिलचिलाती धूप मे बहुत कुछ देखा प्रियंका गांधी
आसमान से उगल रही आग तो वहीं प्रियंका गांधी को एक झलक पाने के लिए लोगों में अजब गजब सा उत्साह देखने को मिला जिसको देखो कोई घुंघट की आंड़ से तो कोई डंडों के सहारे यहां तक की नौजवानो के साथ साथ महिलाओं की झुंड व बच्चों में उत्साह देखने को मिला।वहीं प्रियंकागांधी ने भी कड़ाके की धूप मे ऐसा मेहनत किया कि किसी को असंतुष्ट नही किया किसी को अम्मा तो किसी को दादी तो बच्चों को प्यार तो मीडिया वालों के प्रष्नों के उत्तर देकर सभी को संतुष्ट करते हुए दिखी है।

 

 

Back to top button