उत्तर प्रदेशधर्म

हरदोई: सबने देखा सांई के मंदिर का ख्वाब, पारस जैन की भजन संध्या में

शिरडी के मुख्य आचार्य ने कराई आरती, झूम उठे भक्त

“मेरे घर के आगे सांई राम तेरा मंदिर बन जाए” भजन पर हर कोई झूमने पर मजबूर हो गया.. दृश्य था हरदोई के वंशीनगर में सांई संध्या का.. जब शिरडी से आए भजन गायक पारस जैन ने चर्चित भजन गाया.. पूरा परिसर सांई की भक्ति में डूब गया.. कार्यक्रम स्थल पर एक तरफ 25 फुट ऊंचा सांई का दरबार सजा था.. जिसपर जाने वाली नजर हटती नहीं थी.. कार्यक्रम की शुरुआत सबसे पहले बाबा की आरती शिरडी मंदिर के मुख्य आचार्य अमित देशमुख ने कराई.. देर रात चले भजन कार्यक्रम का समापन बाबा की पालकी और आरती के साथ हुआ..

वंशीनगर में सांई संध्या पर भक्तों की जुटी भीड़

श्री नागेश्वर नाथ मंदिर के सामने आयोजित कार्यक्रम में भजन संध्या का शुभारंभ शहर के सुप्रख्यात कृपालु साधक डॉ राजेंद्र दत्त ने किया.. विशेष रुप से नैमिषारण्य  सांई गुरुद्वार के अधिष्ठाता डॉ राम रतन और डॉ पद्मा की उपस्थिति दर्शनीय रही..

जब खिड़की खोलूं तो तेरे दर्शन हो जाए.. 

“खिड़की खोलूं तो तेरे दर्शन हो जाए” भजन के जरिए पारस जैन ने सभी भक्तों को एक ख्वाब दिखा दिया.. और हर कोई इस भजन के माध्यम से सांई की भक्ति में लीन हो गया.. यही नहीं पारस जैन एक से बढ़कर एक भजन सुनाए.. भजन संध्या में पारस जैन ने “थोड़ा ध्यान लगा-बाबा दौड़े-दौड़े आएंगे” भक्तों के बीच शमां बांध दिया.. वही बेटी का महत्व बताते हुए गीत ने श्रद्घालुओं को भाव विभोर कर दिया.. गायक राहुल बिगड़ी ने “दीवाना तेरा आया बाबा” माध्यम से बाबा का गुणगान किया गया.. पारस जी के साथी प्रवीन मुनी ने “सांईनाथ तेरे हजारों हाथ” भजन सुनाकर वातावरण को भक्तिमय बना दिया.. हरियाणा से आए मास्टर भगवान दीक्षित ने संचालन के जरिए भक्तों पर छाप छोड़ दिया..

करते हो तुम सांई मेरा नाम हो रहा है: श्रेय 

वही श्रेय मिश्रा के “सांई आपकी कृपा से सब काम हो रहा है-करते हो तुम सांई मेरा नाम हो रहा है” भजन ने भक्तों को झूमने पर मजबूर कर दिया.. और विनायक शुक्ला ने “शिरडी वाले सांई बाबा” के कव्वाली सुनाकर भक्तो को मंत्रमुग्ध कर दिया..  आयोजक समिति के अविनाश मिश्र ने बताया कि अक्टूबर में सांईबाबा के समाधि लिए हुए सौ साल पूरे हो गए.. सांई ने हमेशा ही दूसरे के कष्ट अपने ऊपर लेकर उन्हें राहत पहुंचाने का काम किया है..

भजन संध्या में भक्तों ने मांगी मन की मुराद

इस अवसर पर पूर्व सांसद उषा वर्मा, नैमिषारण्य के सांई मंदिर से पवन (आंघ्रा), महेश नाथ महेन्द्रा पप्पू भइया, कृष्ण अवतार दीक्षित बाले, अनिल महेंद्रा को साईं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया..इस मौके पर अरुणेश वाजपेई, अजय वाजपेई भुल्लन, अभय शंकर गौड़, सुख सागर मिश्र, डॉ महेश्वर सहाय गुप्ता, कुलभूषण सिंह एडवोकेट, मानवेंद्र सिंह एडवोकेट, अभिषेक मिश्रा (लखनऊ), अनिल तिवारी, वीर बहादुर सिंह, संजीव सिंह कुशवाहा, अवध बिहारी, संजीव गुप्ता, समीर सिंह, पारुल दीक्षित, राम किशोर द्विवेदी, अविनाश टंडन, संजय शुक्ला, क्षितिज पाठक, श्याम जी मिश्रा, वीरेंद्र गुप्ता, जेके सेठ, अनूप तिवारी, अनिल अग्रवाल, दिनेश मिश्रा, नरेंद्र सिंह, वीरेंद्र वाजपेई, श्याम श्रीवास्तव, मनीष गुप्ता, दिलीप वर्मा, जोगिन्दर गांधी, विक्की रस्तोगी, आनंद गुप्ता, मोहित कपूर, बाला जी गुप्ता, उत्तम श्रीवास्तव, अम्बुज शुक्ला, नीरज शुक्ला, टिंकू, राजे गुप्ता, के के अवस्थी, पुनीत अवस्थी, मयंक दीक्षित, आदित्य विक्रम सिंह, अरविंद सिंह, संजय मिश्रा, प्रमोद दुबे, अतुल शुक्ला, त्रिपुरेश मिश्र, सुमित सिंह, पुनीत सिंह, डॉ नवीन सक्सेना, विक्की रस्तोगी, दीपक त्रिवेदी, गोपाल महरोत्रा, डॉ व्योम मिश्रा, डॉ शांतनू मिश्रा, प्रदीप रस्तोगी, अनिल भसीन, नीरज कपूर, राजीव मोहन अवस्थी, महेंद्र श्रीवास्तव, अपूर्व महेश्वरी, अनुराधा मिश्रा, अनीता मिश्रा, लीना महरोत्रा, अमिता शुक्ला, वंदना तिवारी, अन्नू रस्तोगी, स्वाति तिवारी, अनपूर्णा द्विवेदी, लक्ष्मी सेठ, सुप्रिया सेठ, अपूर्वा मिश्रा मौजूद रहीं..

 

 

Back to top button