देश

50000 से भी अधिक छात्रों को प्रशिक्षण दे रही साहिल कोठारी ट्रेनिंग और कंसल्टेंसी

नमस्कार। साहिल आप अपने बारे में कुछ बताइए ?

नमस्कार, मैं साहिल कोठारी (Sahil Kothari) , साहिल कोठारी ट्रेनिंग और कंसल्टेंसी का संस्थापक हूं। हम दुनिया भर में हजारों लोगों को हमारी सेवा ऑनलाइन प्रशिक्षण और परामर्श के रूप में देते हैं।

साहिल कोठारी ट्रेनिंग और कंसल्टेंसी की स्थापना सन 2018 में की गई थी और तब से लेकर अब तक इसने 50000 से भी अधिक छात्रों को प्रशिक्षण एवं परामर्श दिया है।

अपने पृष्ठभूमि के बारे में कुछ बताएं?

मैं कोलकाता, पश्चिम बंगाल से हूं। मैंने अपनी स्कूली शिक्षा “सेंट पॉल, दार्जिलिंग” से की और “भवानीपुर कॉलेज” से बी.कॉम किया। बाद में मैंने चार्टर्ड अकाउंटेंसी की पढ़ाई करने का विकल्प चुना, लेकिन फिर मैंने महसूस किया कि यह क्षेत्र मेरे लिए नहीं है।

हम एक मध्यमवर्गीय परिवार से ताल्लुक रखते हैं और जीवन में स्थापित होने के लिए मुझ पर भी काफी अधिक सामाजिक एवं पारिवारिक दबाव था।
9 बजे से 6 बजे की नौकरी करने के लिए मैं कभी भी खुद को प्रेरित एवं तैयार नहीं कर पाया और मैंने हमेशा अपने कुछ नया करने के विचारों को बढ़ावा दिया।

साहिल कोठारी ट्रेनिंग और कंसल्टेंसी शुरू करने के लिए आपको किस बात ने प्रेरित किया?

मुझे “Secret” नामक एक पुस्तक के बारे में पता चला और “Law of Attraction” की अवधारणा ने मुझे काफी आकर्षित और चकित किया।

इसके बाद मैंने दुबई में अपनी नौकरी छोड़ दी और 2016 में अपने सीए की पढ़ाई को जारी रखा। इस फैसले की सभी ने बहुत आलोचना की। आकर्षण के नियम के अनुसार, यदि आप कुछ करने के लिए उत्सुक और दृढ़ हैं और यदि आप अपना पूरा ध्यान उसी ओर केंद्रित करते हैं, तो आप अपने आस-पास की हर चीज़ को अनदेखा करें, और परिणाम आपको अवश्य ही प्राप्त होंगे । और यही मैंने भी किया।

फिर मुझे थोड़े परिणाम मिलने शुरू हो गए, और मैंने विभिन्न ब्लॉग्स, फेसबुक पेजों, और व्हाट्सएप ग्रुपों में आकर्षण के अनुभवों को पोस्ट किया, और जल्द ही लोग मुझसे कोचिंग के लिए संपर्क करने लगे।

मैंने एक साल तक ऐसा किया और फिर इसी दौरान मुझे digitalization और ऑनलाइन सीखने की शक्ति का एहसास हुआ। बाद में 2018 में, मैंने साहिल कोठारी ट्रेनिंग और कंसल्टेंसी की शुरुवात की; सबसे कम कीमत पर उच्च गुणवत्ता वाला प्रशिक्षण प्रदान करने के इरादे के साथ।

आप अपने स्टार्टअप को और आगे कैसे लेकर गए?

मैं कई व्हाट्सएप और फेसबुक समूहों का हिस्सा था और मैंने अपने पाठ्यक्रमों को लोगों तक पहुंचाना शुरू कर दिया। हालंकि, केवल 10 लोगों ने मेरी पहली कार्यशाला में हिस्सा लिया था, लेकिन, इस बात ने मुझे कभी भी निराश नहीं किया और मैं हमेशा अपना सर्वश्रेष्ठ देता रहा।

धीरे धीरे अधिक से अधिक लोग मेरी कार्यशालाओं में शामिल होने लगे, और आज हम मनोविज्ञान, मन की शक्ति, स्वास्थ्य और कल्याण और गुप्त विज्ञान के विषयों में हर महीने हजारों छात्रों को प्रशिक्षित करते हैं।

युवा उद्यमियों को अपना स्टार्टअप शुरू करने के लिए आप क्या सलाह देना चाहेंगे?

देखिए, इस कठोर मुकाबले के वातावरण और माहौल में चुनौतियां और संघर्ष तो आती ही हैं, पर मुख्य बात यह है कि आपका इरादा कितना दृढ़ और स्पष्ट है। अपने इरादे को निर्धारित करें कि आप वास्तव में क्या हासिल करना चाहते हैं और कितने अवधि में इसे हासिल करना चाहते है। अपने इरादे पर कभी भी संदेह न करें, और बस समाधान पर ध्यान केंद्रित करें; समस्या पर नहीं। ऐसा करने से आपको जबरदस्त परिणाम मिलेंगे और आपको चमत्कारिक रूप से अपने रास्ते मिलने लगेंगे और आप सफलता की और बढ़ते चले जाएंगे।


loading…

loading…

Back to top button