ख़बरदेशराजनीति

रिपोर्ट में खुलासा: 7 सांसदों और 199 विधायकों के पास नहीं है पैन कार्ड

पैन कार्ड

आपको जानकर हैरानी होगी की देश के 7 सांसदों और 199 विधायकों ने आगामी विधानसभा चुनावों के नामांकन पत्र में अपने पैन कार्ड की जानकारी नहीं दी है. इसका खुलासा हाल ही में जारी एक रिपोर्ट से हुआ है. यह तब हुआ है जब देश में कई कामों के लिए पैन कार्ड को लगभग अनिवार्य की तरह मांगा जाता है. तो क्या इससे ऐसा नहीं लगता की हमारे लिए कानून बनाने वाले लोग ही खुद उसका पालन नहीं करते है.

वर्तमान में देश के मौजूदा सात सांसदों और 199 विधायकों ने अपने पैन कार्ड विवरण घोषित नहीं किये हैं। जिसकी चुनाव के वक्त नामांकन पत्र भरने के लिए जरूरत होती है। एक रिपोर्ट में शुक्रवार को यह जानकारी दी गई है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म (एडीआर) और नेशनल इलेक्शन वॉच (एनईडब्ल्यू) की इस रिपोर्ट को 542 लोकसभा सांसदों और 4,086 विधायकों के स्थायी खाता संख्या (पैन) के विवरण के विश्लेषण के बाद तैयार किया गया है।

संसद और राज्य विधानसभा का चुनाव लड़ने के लिए उम्मीदवारों को निर्वाचन अधिकारियों के समक्ष अपने नामांकन पत्रों के साथ अपने हलफनामों में पैन का विवरण देना होता है। दिलचस्प बात यह है कि जिन सांसदों और विधायकों ने पैन डिटेल नहीं दी है, उनमें से कई करोड़पति हैं। इन सांसदों ने अपने शपथ पत्र में पैन कार्ड का विवरण नहीं दिया है।

एडीआर ने एक बयान में कहा, ‘पैन विवरण घोषित नहीं करने वाले सबसे अधिक 51 विधायक कांग्रेस के है। इसके बाद भाजपा के 42 विधायक, माकपा के 25 विधायक हैं।’ राज्यवार सबसे अधिक संख्या (33) केरल से है। इसके बाद मिजोरम (28) और मध्य प्रदेश (19) हैं। दिलचस्प बात यह है कि मिजोरम राज्य विधानसभा में विधायकों की संख्या 40 हैं जिसमें से 28 विधायकों ने अपना पैन विवरण नहीं दिया है।

Back to top button