देशराजनीति

राजस्थान : राहुक का मोदी पर अटैक, किस प्रकार के हिन्दू है ?

Congress president Rahul Gandhi

भीलवाड़ा।  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगया हैं कि केन्द्र की मोदी एवं राज्य की वसुंधरा सरकार की गलत नीतियों के कारण आज युवाओं को रोजगार एवं किसानों को एक अच्छा भविष्य दिलाने की सबसे बड़ी चुनौती बन गई लेकिन कांग्रेस सत्ता में आने पर युवाओं को रोजगार एवं किसानों के हित में काम करेगी।

गांधी आज यहां चुनाव सभा में कहा कि अगर मोदी सरकार ने वायदे के अनुसार काम कर युवाओं को रोजगार और किसानों के हित में काम किया होता तो आज ऐसी चुनौती खड़ी नहीं होती। उन्होंने कहा कि राजस्थान में हाल में रोजगार नहीं मिलने से दुखी होकर चार युवकों ने आत्महत्या कर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को संदेश दिया है कि आप हिन्दुस्तान को रोजगार नहीं दिला पाये हैं इसलिए आत्महत्या कर रहे हैं।

उन्होंने श्रीमती राजे की एक चुनाव सभा का जिक्र करते हुए कहा कि एक महिला ने मुख्यमंत्री से रोजगार नहीं देने का सवाल किया लेकिन उन्होंने इसका कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि देश का चौकीदार एवं श्रीमती राजे युवाओं को रोजगार नहीं दे पाये, अगर वे लोगों का नुकसान भी नहीं करते तो भी जनता सह लेती लेकिन मोदी की नीति ने छोटे व्यापारियों आदि को बर्बाद कर दिया।

उन्होंने नोटबंदी का जिक्र करते हुए कहा कि भीलवाड़ा में कपड़े की कई यूनिटे बंद हो गई, नोटबंदी एवं वस्तु सेवा कर (जीएसटी) का क्या फायदा हुआ। उन्होंने कहा कि सरकार की नीति के कारण लाखों लोग बेरोजगार हो गये। उन्होंने कहा कि रोजगार के बारे में जब सवाल पूछा जाता हैं तो श्री मोदी कहते हैं पकोड़े बनाओं। चीन मोबाइल, हवाईजहाज आदि बना रहा है जबकि हिन्दुस्तान की जनता को रोजगार के नाम पर कहा जा रहा है पकोड़े बनाये।
उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि नोटबंदी के समय जनता को लाइन में खड़ा कर दिया और उनकी मेहनत का पैसा बैंकों के जरिए छीन लिया गया और तीन महीने बाद ही उद्योगपति नीरव मोदी की जैब में डाल दिया गया। उन्होंने कहा कि करीब पन्द्रह बड़े उद्योगपतियों के साढे तीन लाख करोड़ रुपए का कर्जा माफ कर दिया गया। उन्होंने कहा कि अगर बेरोजगारों को पैसा दिया जाता तो लोगों को रोजगार मिलता लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

उन्होंने कहा कि मोदी युवाओं की बात नहीं सुनेंगे। उन्होंने राफेल लड़ाकू विमान मुद्दे पर भी श्री मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि इस मामले में उद्योगपति अनिल अंम्बानी को करोड़ों रुपए का फायदा पहुंचाया।
गांधी ने आरोप लगाते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने किसानों के नाम पर नई बीमा योजना लाकर बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुंचाने का काम किया जबकि किसानों की फसल नुकसान होने पर उन्हें बीमा का कोई पैसा नहीं मिला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार बनने पर वह किसानों की मदद कर उनका कर्जा माफी का काम करेंगे। शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य किये जायेंगे तथा पूर्ववर्ती गहलोत सरकार के समय की मुफ्त दवा योजना सहित अन्य योजनाओं पर काम किया जायेगा।

‘प्रधानमंत्री कहते हैं कि वह हिंदू हैं लेकिन यह नहीं जानते’
राहुल गांधी ने कहा, ‘हिंदुत्व का सार क्या है? गीता क्या कहती है? वह ज्ञान हर किसी के साथ है, ज्ञान आपके चारों ओर है। प्रत्येक जीवित चीज के पास ज्ञान है। हमारे प्रधानमंत्री कहते हैं कि वह हिंदू हैं लेकिन हिंदुत्व की नींव के बारे में नहीं जानते। वह किस प्रकार के हिंदू हैं।’

सर्जिकल स्ट्राइक सेना का था निर्णय’
उदयपुर में राहुल गांधी ने कहा, ‘असल में नरेंद्र मोदी ने आर्मी के अधिकार क्षेत्र में दखल देते हुए उसे अपनी सर्जिकल स्ट्राइक का रूप दे दिया। उन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक को राजनीतिक रूप दिया जबकि यह मिलिटरी का निर्णय था। 

‘मनमोहन सिंह से आर्मी ने कहा- पाक से बदला लेने की जरूरत’
राहुल गांधी इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने कहा, ‘क्या आप जानते हैं कि नरेंद्र मोदी की सर्जिकल स्ट्राइक की तरह, मनमोहन सिंहजी ने तीन बार ऐसा किया? जब आर्मी मनमोहन सिंह के पास आई और कहा पाकिस्तान जो कर रहा है ऐसे में हमें बदला लेने की जरूरत है तो उन्होंने कहा कि हमें इसे अपने उद्देश्यों के लिए गुप्त रखना चाहिए।’

मोदी सरकार की नीतियों पर राहुल का हमला
मोदी सरकार की नीतियों पर कड़ा प्रहार करते हुए राहुल ने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समझते हैं कि दुनिया का पूरा ज्ञान उनके ही दिमाग से निकलता है और बाकी लोगों को कुछ नहीं मालूम है। यूपीए सरकार के समय एनपीए दो लाख करोड़ रुपये था। मोदी सरकार के चार साल में एनपीए 12 लाख करोड़ रुपये हो गया। नोटबंदी और जीएसटी के बारे में देश की जनता भ्रमित है और इससे अर्थव्यवस्था को नुकसान हुआ। मोदी सरकार युवाओं के लिए रोजगार देने के मामले में पूरी तरह विफल रही है।’

Back to top button