उत्तर प्रदेश

लग गए योगी फॉर पीएम के होर्डिंग, मोदी बताये गए जुमलेबाजी के किंग

यूपी की राजधानी लखनऊ में एक बार फिर सियासत गरमा गयी है. बताते चले कांग्रेस की तीन राज्यों मध्य प्रदेश ,छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के निराशाजनक प्रदर्शन के बाद अब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के खिलाफ लखनऊ में पोस्टर और होर्डिंग्स लग गये हैं। ये  होर्डिंग चर्चा में आ गए, जिन पर योगी फॉर पीएम लिखा है. एक तरफ पीएम मोदी की तस्वीर है, तो दूसरी तरफ योगी की. मोदी की तस्वीर की नीचे लिखा है- जुमलेबाजी का नाम मोदी और योगी की तस्वीर की नीचे लिखा है- हिंदुत्व का ब्रांड योगी.

लिखे मुस्लिम तुष्टीकरण जैसे स्लोगन

पोस्टर में 10 फरवरी को रमाबाई अम्बेडकर मैदान में धर्मसंसद के आयोजन की जानकारी दी गयी है। पोस्टर में श्री मोदी और श्री योगी के चित्र भी बनाये गये हैं। मुख्यमंत्री निवास के पास लगे होर्डिंग्स में श्री मोदी के चित्र के नीचे राम मंदिर निर्माण के नाम पर हिन्दुओं से धोखा,एससीएसटी ऐक्ट से सवर्णो पर चाबुक,प्रमोशन में आरक्षण लाकर प्रतिभाओं का दमन,धारा 370 और जनसंख्या नियंद्वण पर चुप्पी,कश्मीरी पत्थरबाजों पर से मुकदमें की वापसी,नोटबन्दी से 150 लोगों की मृत्यु,गौरक्षकों को गुण्डों की उपाधि, जीएसटी से व्यापारियों की तबाही और सत्ता में आते ही मुस्लिम तुष्टीकरण जैसे स्लोगन लिखे हैं।

भारतीय जनता पार्टी ने इसे साजिश करार दिया

जबकि श्री योगी के चित्र के नीचे राम मंदिर निर्माण और हिन्दू राष्ट्र के लिये प्रतिबद्धता,फेजाबाद का नाम अयोघ्या ,अयोध्या में दीपोत्सव,इलाहाबाद को प्रयागराज , गौकशी पर सख्ती और गौरक्षकों को संरक्षण,अवैध पशुवधशालाओं को बन्द किया,उत्तर प्रदेश का भगवाकरण किया और कांवड़यात्रा से डीजे का प्रतिबन्ध हटाने को उपलब्धियां बताते हुये लिखा गया है।
दूसरी ओर, भारतीय जनता पार्टी ने इसे साजिश करार दिया है। पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता चन्द्र मोहन ने हिन्दुस्थान समाचार से कहा कि इस तरह की साजिश बर्दाश्त नहीं की जायेगी।पोस्टर लगाने वालों को जल्द ही बेनकाब कर लिया जायेगा।उन्होने बताया कि सभी पोस्टर और होर्डिंग्स हटवा दिये गये हैं।
इस मामले में पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है । मामले की जांच स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) को सौंपी गयी है।

Back to top button