उत्तर प्रदेश

पकौड़े खाकर दुकानदार से बोलीं स्मृति ईरानी- अमेठी में खोल लो शॉप, मिला ऐसा गजब जवाब

Image result for वाराणसी में ईरानी

आगामी लोक सभा के चुनाव के आगाज़ होने के बाद भाजपा भजपा ताबडतोड़ जनसभा और रैली कर रही है इस बीच मोदी सरकार की केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इन दिनों यूपी  में प्रचार कर रही हैं।वाराणसी में आयोजित कार्पेट एक्‍सपो के उद्घाटन में शामिल होने से पहले केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्‍मृति इरानी ने काशी विश्‍वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन किया। वहां से लौटते वक्त उनका काफिला एयरपोर्ट के बाहर एक चाय की दुकान पर रुक गया। दुकान पर पहले से ही मौजूद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। यहां स्मृति ने ब्रेड पकौड़ा खाया और चाय पी। ब्रेड पकौड़े का स्वाद उन्हें इतना भाया कि उन्होंने दुकानवाले को अमेठी आकर यही काम करने की सलाह दी। इसपर दुकानवाले ने जो जवाब दिया, वो चर्चा का विषय बन गया।

दुकानदार बोला- यही बहुत है
चाय की दुकान पर ब्रेड पकौड़ा खाने के बाद स्मृति ईरानी ने चायवाले को अपने संसदीय क्षेत्र में दुकान लगाने को कहा। उन्होंने कहा, चाय पकौड़ा बहुत अच्छा बनाते हो, चलो अमेठी में दुकान खोल लो। इस पर दुकानवाले ने जवाब दिया, ‘इसे बनाना गुजरात से सीखकर आया हूं। बनारस में इसे बेच रहा हूं बस यही बहुत है।’ इस पर वहां मौजूद लोग हंसने लगे। स्मृति ने इसपर पूछा, क्या गुजराती बोलते हो तो दुकानवाले ने जवाब दिया- नहीं हमारी हिंदी बढ़िया है। इसके स्मृति ईरानी खाने का बिल चुकाकर आगे बढ़ गईं।

‘मसाले का नहीं, बनारस के पानी का असर’
कचौड़ी-जलेबी का स्‍वाद लेने के बाद उन्‍होंने दुकानदार से पूछा, दिल्‍ली और अहमदाबाद में भी कचौड़ी सब्‍जी मिलती है लेकिन उसमें यह स्‍वाद क्‍यों नहीं आता? कौन सा मसाला डालते हैं आप लोग ? दुकानदार ने जवाब में कहा, ‘मैडम यह मसाले का नहीं बल्कि बनारस के पानी का असर है।’ इसके बाद बड़ा लालपुर स्थित ट्रेड फैसिलिटेशन सेंटर जाते समय रास्‍ते में वह मिंट हाउस की अड़ी पर कुछ देर के लिए रुकीं। यहां इरानी ने नन्‍दू पाल की कुल्‍हड़ वाली चाय पी। इस दौरान कई स्थानीय बीजेपी नेता भी साथ में मौजूद रहे।

Back to top button