देशराजनीति

एयरस्ट्राइक पर बोले मोदी- नामुमकिन अब है मुमकिन क्योंकि..

PM Modi election campaign

बुधवार सुबह भारत-पाकिस्तान के बीच सीमा पर तनाव और बढ़ गया। पाकिस्तान के लड़ाकू जहाजों ने भारतीय सीमा का उल्लंघन किया और दोनों देशों की वायुसेना के बीच टकराव हुआ, जिसमें भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान का एक लड़ाकू विमान मार गिराया। हालांकि इस प्रयास में भारत का एक मिग-21 युद्धक विमान भी क्रैश हो गया। इस विमान का पायलट लापता बताया गया है। हालांकि पाकिस्तान ने दावा किया कि मिग-21 का पायलट उनके कब्जे में है।

इस बीच हालात पर नजर रखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय बैठक हुई। विपक्ष की 21 पार्टियों ने मिलकर इस मुद्दे पर सरकार को अपना समर्थन दिया। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी फ्रांस, श्रीलंका ने पाकिस्तान को आतंकवाद के लिए चेताया। इस बीच सीमा से सटे हवाई अड्डों को सील कर दिया गया और उड़ानें रद्द कर दी गईं। भारत ने पाकिस्तान के उप उच्चायुक्त को बुलाकर पूरे घटनाक्रम पर अपना विरोध जताया।

सीमा पर बढ़ते तनाव और टकराव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश से एकजुट रहने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि देश की भावनाएं एक अलग स्तर पर हैं। देश का वीर जवान सीमा पर और सीमा के पार भी अपना पराक्रम दिखा रह है। पूरा देश आज एक है और हमारे जवानों के साथ खड़ा है।

विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बीजेपी के बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम ने कहा, ‘दुनिया हमारे कलेक्टिव विल को देख रही है। हमारी सेनाओं के सामर्थ्य पर हमें भरोसा है। इसलिए बहुत आवश्यक है कि कुछ भी ऐसा न हो जिससे उनके मनोबल पर आंच आए या हमारे दुश्मनों को हम पर पर ऊंगली उठाने का मौका मिल जाए।’

हम सब सिपाही’
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘देश की सुरक्षा और सामर्थ्य का संकल्प लेकर हमारा जवान सीमा पर जुटा हुआ है। हम सब पराक्रमी भारत के नागरिक हैं। इसलिए हम सबको भी सिपाही बनकर देश की समृद्धि और सौहार्द के लिए दिन रात एक करना होगा। यह हमारी पहली जिम्मेदारी है। पराक्रमी कभी यह नहीं सोचता, बहुत हो गया सो जाओ।’

‘प्रगति रोकने की साजिश’

प्रधानमंत्री ने कहा कि दुश्मन भारत को अस्थिर करने की साजिश करता है। उन्होंने यह भी कहा कि आतंकी हमलों के पीछे भी एक मकसद देश की प्रगति रोकना होता है। उन्होंने कहा कि दुशमन के इस मकसद के सामने हर भारतीय को दीवार बनकर, चट्टान बनकर खड़ा होना है।

पीएम ने कार्यकर्ताओं को बूथ स्तर पर अधिक मेहनत करने की सलाह देते हुए कहा, ‘आपको गर्व होगा कि कैसे अपनी सरकार लोगों के जीवन में बदलाव ला रही है। आपके काम करने की प्रेरणा से संकल्प और मजबूत होगा कि इस प्रगति को रुकने नहीं देना है।’

Back to top button