ख़बरदेश

अभिनंदन बर्धमान : जानिए ना‘पाक’ शिकंजे में फंसे IAF पायलट के बारे में सबकुछ

भारतीय वायुसेना ने भारत-पाकिस्तान सीमा पर पाकिस्तान के एक लड़ाकू विमान को मार गिराया है। भारतीय सीमा पर लोगों ने एक पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को पाकिस्तान की ओर गिरते देखा है। ये घटना भारत-पाकिस्तान सीमा पर दोनों देशों की वायुसेना के बीच हुई एक हवाई लड़ाई के दौरान हुई। इस पूरी हवाई लड़ाई में भारतीय वायुसेना का एक लड़ाकू जहाज भी नष्ट हो गया है। भारतीय लड़ाकू विमान का पायलट अभी लापता है। यह जानकारी विदेश मंत्रालय ने बुधवार को एक आधिकारिक प्रेसवार्ता में दी।

बुधवार को विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार और भारतीय वायुसेना की ओर से एयर वाइस मार्शल कपूर ने मीडिया से मुलाकात की और भारत-पाकिस्तान सीमा पर हुई इस हवाई लड़ाई को लेकर जानकारी दी। पाकिस्तानी ओर से दावा किया जा रहा था कि उसने दो भारतीय लड़ाकू विमानों को मार गिराया है, जो गलत है। यह भी गलत है कि पाकिस्तान ने हमारे दो पायलट पकड़ लिए हैं। उसमें से एक अस्पताल में है और दूसरा उनकी कैद में है, जिससे पूछताछ हो रही है।

भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमान को खदेड़ते हुए भारतीय वायु सेना का मिग 21 बायसन विमान पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में क्रैश हो गया. बताया जा रहा है कि इस विमान को भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान उड़ा रहे थे.

पाकिस्तान यह दावा कर रहा है कि उन्होंने एक फ्लाइंग पायलट को अरेस्ट कर लिया है. जिसका नाम अभिनंदन वर्धमान है. पाकिस्तान मीडिया द्वारा जारी किए गए वीडियो में अभिनंदन वर्धमान खुद को विंग कमांडर बता रहे हैं, जिनका  सर्विस नंबर 27981 है. बताया जा रहा है कि अभिनंदन वर्धमान के पिता रिटायर्ड एयर मार्शल रह चुके हैं.

सरकार की तरफ से विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमान को खदेड़ते हुए हमारा एक मिग क्रैश हुआ है. इसमें हमारा एक पायलट भी लापता है. हम इसकी जांच कर रहे हैं.

पाकिस्तानी सेना ने जारी किया वीडियो…

पाकिस्तानी सेना ने एक वीडियो जारी कर यह दावा किया है कि एक भारतीय पायलट उनके कब्जे में है. जिसे उन्होंने पाकिस्तानी सीमा से गिरफ़्तार किया है. वीडियो में भारतीय वायु सेना की वर्दी में एक व्यक्ति दिखाई दे रहा है जिसकी आंखों पर पट्टी बंधी है. यह व्यक्ति ख़ुद को विंग कमांडर अभिनंदन बता रहा है. उसकी वर्दी पर अंग्रेजी में ‘ABHI’ लिखा हुआ है.

जिनेवा संधि के तहत नहीं डरा-धमका सकता है पाकिस्तान…

गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय जिनेवा संधि के तहत युद्धबंदियों को डराने-धमकाने का काम या उनका अपमान नहीं किया जा सकता. युद्धबंदियों को लेकर जनता में उत्सुकता भी पैदा नहीं की जा सकती. केवल युद्धबंदियों को अपना नाम, सैन्य पद और नंबर बताने का प्रावधान है.

Back to top button