/** * The template for displaying the header * */ defined( 'ABSPATH' ) || exit; // Exit if accessed directly ?> Oppo का धांसू प्लान! स्मार्टफोन के बाद अब कार और मोबाइल एसेसरीज़ को भी मिलेगी फास्ट चार्जिंग – JanMan tv
गैजेट ज्ञान

Oppo का धांसू प्लान! स्मार्टफोन के बाद अब कार और मोबाइल एसेसरीज़ को भी मिलेगी फास्ट चार्जिंग

बदलते समय के साथ दुनिया भी माडर्न होती जा रही है. आज के समय में हर किसी के पास स्मार्टफोन है और ज्यादातर काम भी लोग ऑनलाइन करना पसंद करते है. जिससे टेक्नोलॉजी लगातार एडवांस होती जा रही है और मीलों की दूरियां भी नजदीकियां में बदलती जा रही है. देश में बहुत से टेलिकॉम कंपनी है जो अपने ग्राहकों को अपनी सेवा प्रदेन करती है. कुछ साल पहले तक लोगों में 4G स्मार्टफोन का काफी क्रेज था. लेकिन अब सभी की नजरें 5G स्मार्टफोन पर टिकी हुई हैं. बाजार में लगातार 5G फोन लॉन्च हो रहे हैं.

वहीं भारत में स्मार्टफोन यूजर्स की संख्या तेजी से बढ़ रही है. तो वहीं ओप्पो उन कुछ टेक कंपनियों में से एक है जिन्होंने स्मार्टफोन तकनीक को बेहतर बनाने के लिए कुछ ठोस काम किए हैं. ओप्पो की एक सफल तकनीकों में से एक VOOC फास्ट चार्जिंग है. इसका लेटेस्ट एडिशन ये है कि आपकी बैटरी सिर्फ 20 मिनट के अंदर चार्ज हो सकती है, लेकिन अब कंपनी अपने स्मार्टफोन टेक्नोलॉजी को फोन के अलावा दूसरे एसेसरीज़ के लिए भी लाने जा रही है. कंपनी ने एक नए प्रोग्राम की शुरुआत की है जिसका नाम फ्लैश पहल है. कंपनी ने मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस शंघाई में इसका ऐलान किया. ओप्पो ने कहा कि वह अपनी टेक्नोलॉजी को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए काम कर रही है.

VOOC चार्जिंग टेक्नोलॉजी ओप्पो फोन पर काफी समय से उपलब्ध है. इसे 2014 में लॉन्च किया गया था, और ओप्पो ने 30 से ज़्यादा स्मार्टफोन मॉडल पेश किए थे ,जो बताते हैं कि VOOC ने अब तक दुनिया भर के 175 मिलियन से ज़्यादा यूज़र्स को अल्ट्रा-फास्ट चार्जिंग का एक्सपीरिएंस दिया है.

ओप्पो ने फ्लैश पहल के तहत Anker और FAW- फॉक्सवैगन के साथ साझेदारी की है. FAW ग्रुप और फॉक्सवैगन के बीच चीन में गाड़ी बेचने को लेकर ये साझेदारी की गई है. इसका मतलब ये हुआ कि VOOC फ्लैश चार्जिंग टेक्नोलॉजी को इन दोनों कंपनियों द्वारा चीनी मार्केट में इस्तेमाल किया जाएगा. ओप्पो का कहना है कि उसकी चार्जिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल पब्लिक प्लेस में भी किया जाना चाहिए.

ओप्पो की इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल जहां Anker अपने मोबाइल एक्सेसरीज में करेगा तो वहीं FAW- फॉक्सवैगन अपनी कारों में इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगी.

पिछले साल ओप्पो ने अपने स्मार्टफोन्स के लिए फ्लैश चार्ज नाम की सबसे तेज चार्जिंग टेक्नोलॉजी की पेशकश की थी. ये फोन चार्ज करने के लिए 125W आउटपुट पॉवर का इस्तेमाल करता है, जिसको लेकर दावा किया जाता है कि ये 4000mAh बैटरी को सिर्फ 20 मिनट के अंदर फुल चार्ज कर देती है.

Back to top button