ख़बरदेश

देश को मिला एक और ‘अभिनंदन’, जानिए कहां हुआ जन्म

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की वतन वापसी पर पूरा देश खुश है।गिरफ्तारी के 60 घंटे बाद रात 9:10 बजे पाकिस्तानी अधिकारियों ने अमृतसर के अटारी बार्डर पर अभिनंदन को भारत को सौंप दिया। विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान का शुक्रवार देर रात पाकिस्तान से दिल्ली वापसी पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों और विभिन्न दलों के नेताओं ने स्वागत किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अभिनंदन की वापसी का स्वागत करते हुए ट्वीट किया, ‘‘ विंग कमांडर अभिनंदन आपका घर वापसी पर स्वागत है। राष्ट्र को आपके अदम्य साहस पर गर्व है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि अभिनंदन आप पर देश को गर्व है। आप जैसे वीरों से ही हम सुरक्षित हैं।

 

इस बीच हम आपको बता दे  राजस्थान के अलवर जिले के किशनगढ़बास में एक परिवार ने विंग कमांडर अभिनंदन के नाम पर अपने नवजात बच्चे का नाम रखा है. परिवार का कहना है इसका नाम अभिनंदन रखने से अभिनंदन का शौर्य और पराक्रम हमेशा याद रहेगा. बच्चे की मां सपना देवा का कहना है उसका बेटा विंग कमांडर अभिनंदन जैसे बहादुर बने, उन्होंने कहा कि टीवी और खबर देखकर देश के रियल हीरो वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन के नाम पर नवजात पुत्र का नाम रखा है. वही बच्चे के माता-पिता का कहना है कि वो अपने बेटे को देश की सेवा के लिए सेना में ही भेजेंगे.

देश के रियल हीरो अभिनंदन के शौर्य और अदम्य साहस से प्रेरित किशनगढ़बास कस्बे के रहने वाले जनेश भूटानी ने अपने परिवार में जन्मे बच्चे यानि पोते का नाम अभिनंदन रखा. वहीं जनेश भूटानी के बेटे और बहू दोनों ने भी यह संकल्प लिया कि वो अपने पुत्र को देश की सेवा के लिए सेना में ही भेजेंगे

Back to top button