IND vs WI: सामने आईं टीम इंडिया की दो बड़ी कमजोरी, वर्ल्डकप में पड़ेंगी भारी?

पांच मैचों की श्रृंखला के शुरूआती टी20 अंतरराष्ट्रीय में प्रभावशाली जीत दर्ज करने के बाद रोहित शर्मा की अगुवाई वाली भारतीय टीम सोमवार को दूसरे मैच में वेस्टइंडीज पर अपना दबदबा बरकरार रखने उतरेगी. इस साल खेले जाने वाले टी20 विश्व कप को देखते हुए भारतीय टीम इस प्रारूप के किसी भी मैच को हलके में नहीं लेगी.

अब तक निर्धारित नहीं हो सका रोहित का जोड़ीदार

वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरुआती टी20 मैच में दोनों देशों के बीच खेल के हर विभाग में बड़ा अंतर देखने को मिला. रोहित ने रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन और रवि बिश्नोई जैसे तीन स्पिनरों को अंतिम एकदश में शामिल कर चतुराई भरी कप्तानी का परिचय दिया. उन्होंने इसके साथ ही सूर्यकुमार यादव के साथ पारी का आगाज कर सबको चौंका दिया.

इंग्लैंड के खिलाफ इस प्रारूप में रोहित ने विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत के साथ पारी का आगाज किया था. ऐसे में सूर्यकुमार इस साल टी20 अंतरराष्ट्रीय में भारत के सातवें सलामी बल्लेबाज बने. उन्होंने आक्रामक बल्लेबाजी करते हुए 16 गेंद में 24 रन बनाये. लोकेश राहुल की गैरमौजूदगी में यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या टीम प्रबंधन सलामी बल्लेबाजी के लिए प्रयोग करना जारी रखेगा.

मध्यक्रम की बल्लेबाजी और सलामी जोड़ी को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है. टीम इंडिया के लिए आगामी टी20 वर्ल्डकप में ये समस्या खतरनाक साबित हो सकती है.

मध्यक्रम में लड़खड़ा रहे भारतीय बल्लेबाज

भारतीय टीम को लंबे समय से बायें हाथ के बेहतर तेज गेंदबाज की कमी खल रही थी लेकिन अर्शदीप सिंह ने शुरुआती टी20 अंतरराष्ट्रीय में अपनी बेहतरीन गेंदबाजी से  प्रभावित किया. पंजाब के इस 23 साल के गेंदबाज ने अपने चार ओवर के स्पैल में कहीं भी ढिलाई नहीं बरती. उन्होंने शुरुआती ओवरों में शॉर्ट गेंद के शानदार इस्तेमाल से सलामी बल्लेबाज काइल मायर्स को चलता किया तो वहीं आखिरी ओवरों में उनकी सटीक यॉर्कर का अकील हुसैन के पास कोई जवाब नहीं था.

पिछले मैच में रोहित शर्मा ने 44 गेंद में 64 रन की पारी खेल कर बड़े स्कोर की नींव रखी लेकिन भारतीय मध्यक्रम लड़खड़ा गया. आखिरी ओवरों में हालांकि दिनेश कार्तिक (19 गेंद में नाबाद 41 रन) की साहसिक पारी ने टीम के स्कोर को 190 रन तक पहुंचाया.

कुलदीप यादव को मिल सकता है मौका

इस मैच में मध्यक्रम के बल्लेबाजों को अपनी शुरुआत को बड़ी पारी में बदलने पर ध्यान देना होगा. अश्विन और बिश्नोई की फिरकी का वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों के पास कोई जवाब नहीं था. अश्विन ने चार ओवर में 22 रन देकर दो विकेट लिये और यह जता दिया कि टी20 में वह अब भी टीम को काफी कुछ दे सकते हैं. वहीं, 21 साल के बिश्नोई (चार ओवर में 26 रन पर दो विकेट) ने भी साबित किया कि वह बड़े मंच के लिए तैयार हैं. यह देखा जाना बाकी है कि टीम प्रबंधन जडेजा, अश्विन और बिश्नोई की तिकड़ी को बरकरार रखेगा या अक्षर पटेल और कुलदीप यादव की टीम में वापसी होगी.

भारत की पूरी टीम

रोहित शर्मा (कप्तान), ईशान किशन, श्रेयस अय्यर, दीपक हुड्डा, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पंड्या, ऋषभ पंत, संजू सैमसन, दिनेश कार्तिक, रविंद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, कुलदीप यादव, भुवनेश्वर कुमार, आवेश खान, हर्षल पटेल, रवि बिश्नोई, अक्षर पटेल और अर्शदीप सिंह.

वेस्टइंडीज की पूरी टीम 

निकोलस पूरन (कप्तान), शामराह ब्रूक्स, ब्रैंडन किंग, रोवमैन पॉवेल, कीसी कार्टी, काइल मायर्स, जेसन होल्डर, गुडाकेश मोती, कीमो पॉल, शाई होप, अकील हुसैन, अल्जारी जोसेफ, जेडन सील्स.  मैच भारतीय समयानुसार रात आठ बजे शुरू होगा.