सऊदी की 2 बहनों की रहस्यमय मौत से परेशान ऑस्ट्रेलिया, अब लेस्बियन होने का खुलासा

ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में बीते 7 जून को पुलिस को एक अपार्टमेंट के फ्लैट में दो लड़कियों का शव मिलता है। ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ के मुताबिक डॉक्यूमेंट्स और तलाशी लेने के बाद पता चला कि दोनों लड़कियां बहने थीं। शवों की हालत और ऑटोप्सी रिपोर्ट से पता लगा कि दोनों की मौत मई में ही हो गई थी।

हालांकि, पुलिस अब तक ये गुत्थी सुलझाने में असफल रही हैं कि आखिर दोनों की मौत कैसे हुई। ये आत्महत्या था या मर्डर। ऐसा ही एक केस 2019 में भी आया था, जो अब तक सुलझ नहीं सका है।

कौन थीं ये लड़कियां

पुलिस की मानें तो इन दोनों बहनों का नाम असरा अब्दुल्ला (23) और अल्सेहिली अब्दुल्ला (24) है, जो सऊदी अरब की रहने वाली हैं। दोनों का शव फ्लैट के अलग-अलग बेडरूम में मिला था। हालांकि इन दोनों की मौत पुलिस के लिए एक मिस्ट्री बन चुकी है। इन दोनों लड़कियों का कोई परिचित या फैमिली मेंबर भी ऑस्ट्रेलिया में नहीं रहते हैं। पड़ोसियों से भी पुलिस कुछ खास जानकारी इकट्ठा करने में नाकामयाब रही है।

बता दें कि लड़कियों के मकान मालिक ने किराए के लिए उन्हें फोन किया। कई बार फोन करने के बाद भी जब कॉल रिसीव नहीं हुई तो उन्होंने पुलिस को फोन किया। पुलिस पहुंची तो दो अलग-अलग कमरों में दोनों बहनों के शव मिले। मई के पहले हफ्ते में पुलिस ने उनसे वेलफेयर प्रोग्राम के तहत मुलाकात की थी। तब वो दोनों बिल्कुल ठीक थीं। इसके बाद 7 जून को उनके शव मिले। पोस्टमार्टम और ऑटोप्सी 10 जून को की गई, जिसमें पता चला कि दोनों की मौत करीब एक महीने पहले हुई थी।

मौत बन गई मिस्ट्री, एफबीआई करेगी जांच में मदद

ये केस अब पुलिस के लिए मिस्ट्री बन चुका है। आसपास के लोगों का कहना है कि दोनों बहनें बहुत कम बाहर निकलती थीं और पड़ोसियों से भी कम बात करती थीं। स्पेशल सेल की पुलिस अफसरों ने भी लोगों से अपील की थी कि अगर किसी के पास इस केस से जुड़ी कोई भी जानकारी हो तो उन्हें बताएं। हालांकि, अब पुलिस इस केस में अमेरिका जांच एजेंसी एफबीआई से मदद लेगी।

महिला ने दावा किया कि दोनों बहनें लेस्बियन थीं

पुलिस के इस अपील के बाद एक महिला ने पहचान ना बताने की शर्त पर बताया है कि दोनों बहनों ने बताया था कि सऊदी अरब में लेस्बियन महिलाएं डर के साए में जीती हैं। इसलिए वो अपने देश वापस नहीं जाना चाहती थीं। महिला ने ये भी दावा किया है कि इस साल जनवरी में एक गर्ल्स क्वीर इवेंट में उसकी मुलाकात इन दोनों बहनों से हुई थीं।

द गार्डियन की रिपोर्ट के मुताबिक, अब न्यू साउथ वेल्स पुलिस यह जांच कर रही है कि क्या इन दोनों में से कोई एक या फिर दोनों ही समलैंगिक थीं। पुलिस का मानना है कि हो सकता है कि अपनी सेक्शुअलिटी की वजह से ही दोनों बहनों ने अपनी जान दी है। बता दें कि ये दोनों बहनें 2017 में सऊदी अरब से भागकर ऑस्ट्रेलिया पहुंची थीं और यहां उन्होंने स्थाई तौर पर शरण लेने की गुहार लगाई थी।

2019 में न्यूयॉर्क में हडसन नदी के किनारे मिली थी दो बहनों की लाश

चार साल पहले न्यूयॉर्क में हडसन नदी के किनारे सऊदी अरब की ही रहने वाली दो बहनों के शव मिले थे। एक का नाम ताला फरा और दूसरी का रोताना फरा था। उनकी मौत की गुत्थी भी अब तक नहीं सुलझा सकी है। हालांकि, जांच के बाद पुलिस का कहना था कि दोनों बहनों ने मरने से पहले शरण लेने के लिए आवेदन दिया था। पुलिस के अनुसार शायद शरण नहीं मिलने के कारण दोनों ने खुदकुशी कर ली।

क्या होता है शरण सुरक्षा

शरण सुरक्षा का एक रूप है जो किसी भी व्यक्ति को उस देश में निर्वासित (हटाए जाने) करने के बजाय संयुक्त राज्य में रहने की अनुमति देता है। जहां उसके साथ किसी भी तरह के उत्पीड़न नहीं किया जाएगा।