राजस्थान में डरावना हुआ कोरोना, 14 दिन में 300% बढ़े केस, जानें लेटेस्ट अपडेट्स

राजस्थान में कोरोना संक्रमण के आंकड़े फिर से डराने लगे हैं। पिछले 14 दिन में नए केस की संख्या तीन गुना की रफ्तार से बढ़ी है। इसकी वजह ओमिक्रॉन के नए वैरिएंट को बताया जा रहा है। पिछले दिनों यह वैरिएंट दिल्ली में डिटेक्ट हुआ है। मौतों का ग्राफ भी नीचे नहीं है। 12 दिनों में कोरोना 13 जानें ले चुका है। मंगलवार को कोरोना से 3 मरीजों की मौत हुई है, जबकि 190 नए केस मिले हैं।

अलवर दूसरे नंबर पर
मेडिकल हेल्थ डिपार्टमेंट से मिली रिपोर्ट के मुताबिक, 1 से 15 अगस्त तक राजस्थान में कुल 7446 नए केस मिले हैं। फरवरी में दूसरी लहर के बाद आए नए केस में यह सर्वाधिक है। जयपुर के अलावा भरतपुर, अलवर और उदयपुर में भी केस बढ़े हैं। जयपुर के बाद अलवर दूसरा ऐसा जिला है, जहां पिछले एक सप्ताह से केस बहुत ज्यादा बढ़े हैं।

मौसम भी एक बड़ा कारण
सीनियर पल्मोनोलॉजिस्ट डॉ. वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि अभी जो केस आ रहे हैं, उसमें अधिकांश कम लक्षण वाले हैं। कुछ मरीजों की स्थिति गंभीर भी है। उन्होंने बताया कि कोविड बढ़ने के पीछे एक कारण मॉइश्चर भी है। नमी में संक्रमण जनित बीमारियां ज्यादा फैलती हैं। कोविड भी इसी नेचर की बीमारी है। लोगों ने अब भीड़-भाड़ वाले एरिया में मास्क लगाना बंद कर दिया है। इस कारण केस बढ़ रहे हैं।

नया वैरिएंट बढ़ाएगा केस
हेल्थ विशेषज्ञों के मुताबिक, राजस्थान ही नहीं दूसरे राज्यों में भी कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे है। राजधानी दिल्ली में इन दिनों सबसे ज्यादा केस आ रहे हैं। वहां तेजी से केस बढ़ने का कारण ओमिक्रॉन का सब वैरिएंट है।इसकी ट्रांसमिशन रेट ज्यादा है यानी यह काफी संक्रामक है। जांच में ये नया सब-वैरिएंट BA 2.75 डिटेक्ट हुआ है। एक सर्वे में ये भी सामने आया है कि 50 फीसदी मरीजों में की जिनोम सीक्वेंसिंग में ये नया वैरिएंट मिला है। राहत की बात ये है कि इससे संक्रमित मरीज केवल 5 से 7 दिन में ही ठीक हो रहे हैं और ये वैरिएंट ज्यादा खतरनाक भी नहीं है।

5 फीसदी के नजदीक पहुंची संक्रमण दर
प्रदेश में संक्रमण दर भी 4.77 फीसदी पर पहुंच गई है। ये भारत की औसत संक्रमण दर से 0.15 फीसदी ज्यादा है। देशभर की स्थिति देखें तो दिल्ली, मेघालय, हिमाचल प्रदेश, गोवा, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और उत्तराखंड ऐसे राज्य हैं, जहां पिछले एक सप्ताह की औसत पॉजिटिविटी रेट 10 फीसदी से ऊपर है।