इमोश्नल वीडियोः पूरे दिन की कमाई गिनते बुजुर्ग.. चेहरा बताया कि कम है रकम!

शायद ही कोई होगा, जिसे अपनी आजीवका चलाने के लिए कोई काम-धंधा नहीं करना पड़े। छोटा हो या बड़ा काम सभी को करना पड़ता है, जिससे परिवार चलाया जा सके और अपनी जरूरतें पूरी की जा सकें। कोई नौकरी करता है, तो कोई व्यवसाय। सभी के अपने-अपने तरीके हैं और अपने-अपने फंडे, मगर काम सभी करते हैं, कमाई के लिए।

यह बात अलग है कि नौकरी पेशा आदमी को महीने में एक बार एक मुश्त पैसा मिल जाता है, जबकि व्यसाय करने वाले, रेहड़ी-ठेला लगाने वालों को दिहाड़ी आमदनी पर निर्भर रहना पड़ता है। इसमें कमाई कभी इतनी हो जाती है कि बंदा संतुष्ट हो जाए और कभी इतनी कम की बंदा निराशा से भर जाए। हालांकि, हिम्मत वह तब भी नहीं हारता, क्योंकि उसे पता है कि कल पता नहीं क्या हो। शायद आज झोली खाली रह गई, तो कल भगवान की कृपा थोड़ी ज्यादा बरस जाए।

 

 

सोशल मीडिया पर ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें देखा जा सकता है कि एक बुजुर्ग शख्स जो शायद छोटा-मोटा सामान बेचकर दिहाड़ी कमाते होंगे, जब दिनभर की कमाई गिनने के लिए दुकान पर बैठे तो आखिरी सिक्का गिनने के बाद चेहरे का भाव बता रहा है कि जितना चाहिए था, उतना आ नहीं सका। यह वायरल वीडियो क्लिप माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर जिंदगी गुलजार है अकाउंट हैंडल से पोस्ट की गई है। वीडियो क्लिप कब ली गई है, मामला कहां का है यह पता नहीं चल सका, मगर भावुक कर देने वाला वीडियो इन दिनों खूब वायरल हो रहा है।

‘जिंदगी के अंतिम सांस तक लगे रहना है’
वायरल वीडियो क्लिप को अब तक करीब पौने पांच लाख बार देखा जा चुका है। 32 हजार से अधिक यूजर्स ने इस वीडियो को पसंद किया है। लगभग साढ़े चार हजार यूजर्स ने वीडियो को रीट्वीट किया है, जबकि पौने दो सौ से अधिक यूजर्स ने इस पर भावुक कमेंट किए हैं। वीडियो क्लिप के बैकग्राउंड में जो गाना बज रहा है, वो इसे और भी भावुक बना रहा है। गीत के बोल है जो पा तेरे वही तेरा..। एक यूजर ने लिखा, भगवान से दुआ है कि इस बाबा की झोली हमेशा भरी रखना। दूसरे यूजर ने लिखा, जिंदगी के अंतिम सांस तक लगे रहना है।