एशिया कप: भारत के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं ये 3 पाकिस्तानी, जानिए क्यों?

जब भी क्रिकेट की दुनिया की सबसे बड़ी राइवलरी की बात होती है तो भारत-पाकिस्तान का नाम जरूर लिया जाता है. पिछले 10 सालों के दौरान दोनों देशों के बीच एक भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं होने के चलते यह टीमें अब सिर्फ आईसीसी या एसीसी के मल्टीनेशन टूर्नामेंट में ही एक-दूसरे से भिड़ती नजर आती है, जिसके चलते फैन्स के बीच इन मैचों का अलग ही क्रेज नजर आता है. आईसीसी और एसीसी को भी इन मैचों की लोकप्रियता का पता है जिसके चलते वो दोनों टीमों के बीच होने वाली प्रतिस्पर्धा के मुनाफे को भुनाने के लिये हर टूर्नामेंट में कम से कम एक भिड़ंत जरूर रखते हैं.

भारत और पाकिस्तान की टीमें 28 अगस्त को एक-दूसरे के खिलाफ होने वाले मैच के साथ अपने कैंपेन का आगाज करेंगी. इस मैच में भारतीय टीम की नजरें जीत के साथ न सिर्फ तीसरी बार खिताब अपने पास रखने पर होगी बल्कि पिछले साल टी20 विश्वकप में पाकिस्तान के हाथों मिली करारी हार का बदला लेने पर भी होगी.

आखिरी भिड़ंत में भारत को मिली थी शर्मनाक हार

उल्लेखनीय है कि विश्वकप के इतिहास में पाकिस्तान ने पिछले साल यूएई में ही भारत के खिलाफ अपनी पहली जीत हासिल की थी. जहां पर भारतीय टीम के टॉप ऑर्डर को पाकिस्तानी गेंदबाजों ने चकनाचूर कर दिया तो वहीं पर गेंदबाज पाकिस्तानी बैटर्स का एक भी विकेट हासिल करने में नाकाम रहे. ऐसे में भारतीय टीम को अगर हार का बदला लेने का सपना पूरा करना है तो उसे इन 3 खास खिलाड़ियों से बचकर रहना होगा वरना भारतीय टीम को एक बार फिर से हार का सामना करना पड़ सकता है.

शाहीन अफरीदी (Shaheen Afridi)

पिछले दो सालों में पाकिस्तान की टीम शानदार प्रदर्शन कर रही है जिसका मुख्य कारण उसके युवा तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी रहे हैं. अफरीदी बायें हाथ के तेज गेंदबाज हैं और नई गेंद से उनके पास बैटर्स का विकेट निकालने की काबिलियत है, जिसकी वजह से उनकी तुलना आये दिन वसीम अकरम और वकार यूनिस जैसे दिग्गज गेंदबाजों से होती है.

आखिरी बार जब भारत-पाकिस्तान की टीम एक दूसरे से भिड़ी थी तो इसी गेंदबाज ने भारतीय बल्लेबाजी टीम के टॉप ऑर्डर को चकनाचूर किया था. ऐसे में अगर भारतीय टीम को पाकिस्तान के खिलाफ जीत हासिल करनी है तो उसे अपने इस गेंदबाज से उसका बेस्ट प्रदर्शन चाहिये होगा.

बाबर आजम (Babar Azam)

एशिया कप में भारतीय टीम को जिस दूसरे पाकिस्तानी खिलाड़ी से बचकर रहने की जरूरत है वो है कप्तान बाबर आजम, जिनकी बल्लेबाजी फॉर्म लगातार शानदार लय में जारी है. वो क्रिकेट के तीनों प्रारूपों की मुश्किल से मुश्किल परिस्थितियों में रन बना रहे हैं और फिलहाल पाकिस्तान क्रिकेट टीम के रन मशीन बने हुए हैं. ऐसे में भारत को जीत सुनिश्चित करने के लिये इस खिलाड़ी से पार पाना बेहद जरूरी है.

मोहम्मद रिजवान (Mohammad Rizwan)

इस लिस्ट में आखिरी नाम विकेटकीपर बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान का है जिन्होंने घरेलू क्रिकेट में दमदार प्रदर्शन करने के बाद 2019 में पाकिस्तान की टीम में एंट्री की और एंट्री करते ही खेल बदल दिया. रिजवान ने पिछले साल 26 पारियों में 73.66 की औसत से 1326 रन बनाये थे और एक कैलेंडर ईयर में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने. इतना ही नहीं रिजवान के पास पारी को संभालने और कभी भी रन गति में बदलाव करने की काबिलियत है जो उन्हें इस प्रारूप में और भी खतरनाक बना देती है.