आपकी सबसे बड़ी कमजोरी बताएगी आपकी राशि, जरूर जानिए

ज्योतिष शास्त्र एक ऐसी विद्या है जिसके जरिए आपके बारे में काफी बातें पता कि जा सकती है। वैसे तो कई लोग इसपर विश्‍वास नहीं करते और इसे अंधविश्‍वास का नाम दे देते हैं लेकिन फिर भी हम आपको बता दें कि ये कोई विद्या ऐसी है जिसके जरिए कुछ हद तक व्‍यक्ति के बारे में बताया जा सकता है। जरूरी नहीं कि ये सत प्रतिशत सही हो लेकिन हां कुछ हद तक जरूर सही होता है ये कोई चमत्‍कार नहीं होता बल्कि ज्‍योतिष आपके कुंडली देखकर इसका अंदाजा लगाते है। वो भी आपके राशियों के आधार पर बशर्ते आपको अपने जन्म का सही समय और तारीख याद होना चाहिए वरना इसका ज्‍योतिष का अंदाजा भी गलत हो जाता है। आज हम आपको राशि के आधार पर बताएंगे कि कौन सी राशी वाले व्यक्ति की सबसे बड़ी कमजोरी कौन सी होती है जो पूरे जीवन भर उसका पीछा करती है।

मेष राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि मेष राशि वाले लोग सही गलत का फैसला करने में बिल्‍कुल नहीं हिचकिचाते। चाहें वो किसी भी हाल में हो अन्याय को बर्दाश्त नहीं कर पाते। इतना ही नहीं इन्हें कई बार अपने किए पर पछतावा भी होता है। इस राशि के लोग मतलबी होते हैं।

वृषभ राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि वृषभ राशि वाले लोग जिद्दी और सख्त स्‍वभाव के होते हैं। चाहे महिला हो या फिर पुरुष, इस राशि के हैं तो वे अपनी राय और मान्यताओं को लेकर काफी जिद्दी हैं। इन्हें खुद के सम्मान के आगे कुछ भी नहीं दिखता।

मिथुन राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि मिथुन राशि के लोग हमेशा समय को लेकर लापरवाह होते हैं इन्हें कभी आप टाइम पर नहीं पाएंगे। ये काफी जल्‍दी बदल जाते हैं क्‍योंकि इन्हें परिवर्तन बहुत पसंद होता है। कहा जा सकता है कि ये लोग दिमागी रूप से कंफ्यूज रहते हैं। ये अपने जीवन में कभी एक जॉब को तो कभी एक रहने का स्‍थान यहां तक की एक जीवनसाथी को लेकर भी काफी समय तक नहीं रह सकते। इनका इमैजिनेशन पॉवर बहुत तेज होती है।

कर्क राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि कर्क राशि वाले काफी संवेदनशील होते हैं, जितनी ज्यादा संवेदना उतनी ही ज्यादा निराशा। कहा जा सकता है कि ये राशि के लोग अंदर से काफी निराशावान होते हैं। दुनिया को इनका एक अलग ही चेहरा नजर आता है लेकिन वास्तविक रूप में ये लोग निराशा के साये में हमेशा घिरे रहते हैं। ये लोग बहुत ज्यादा मूडी होते हैं।

सिंह राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि धन को किस तरह और कितनी तेजी के साथ बर्बाद किया जा सकता है यह सिर्फ सिंह राशि का व्यक्ति ही जानता है। ये असीमित रूप से पैसे खर्च करते हैं और साथ ही इन्हें इस बात से कोई फर्क भी नहीं पड़ता कि इनकी कोई सेविंग नहीं है। बता दें कि सिंह राशि के लोगों के लिए संबंधों में ‘स्पेस’ का कोई अर्थ है ही नहीं।

कन्या राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि कन्या राशि वाले लोग को कभी अपने अंदर गलती नजर नहीं आती जो इनकी सबसे बड़ी कमी है। इन्‍हें अपना आलोचना सुनना बिल्कुल पसंद नहीं है, अगर कोई उन्हें कुछ कहता भी है तो उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता। कन्या राशि के लोग बहुत कम बोलना पसंद करते हैं, इनके दिल की बात कोई नहीं जान सकता।

तुला राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि तुला राशि वाले व्‍यक्ति बहुत ज्यादा आलसी माने जाते हैं। कई दिनों तक तो ये लोग बस प्लान बनते हैं और अंत में अपने आलस की वजह से उस प्लान को पूरा नहीं कर पाते। ये लोग सही समय पर सही निर्णय लेने में भी पीछे रह जाते हैं।

वृश्चिक राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि वृश्चिक राशि के लोग किसी भी बात को जल्दी नहीं भूलते हैं और ना ही किसी को माफ करते हैं। अगर उनके साथ बुरा हुआ रहता है तो वो उससे बदला लेने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। सच चाहे कितना ही बुरा या कड़वा क्यों ना हो, वृश्चिक राशि के लोग सच कहना और सच सुनना ही पसंद करते हैं।

धनुराशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि धनु राशि के लोग अपने परिवार के प्रति समर्पित नहीं होते, जुए खेलने के स्थान और तरीके धनुराशि के व्यक्ति को कुछ इस तरह आकर्षित करते हैं जैसे शहद को देखकर मक्खी आकर्षित होती है। ये उनकी सबसे बड़ी कमजोरी या खामी है।

मकर राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि मकर राशि वाले लोग को किसी बात का फर्क नहीं पड़ता की दुनिया उनके बारे में क्या सोचती है, लेकिन अंदर ही अंदर ये लोग अपनी तारीफ सुनने के लिए परेशान रहते हैं। इन्हें खुद की तारीफ सुनना पसंद है।

कुंभ राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि कुंभ राशि के लोग कभी किसी एक के प्रति समर्पित होकर नहीं रह सकता। एक समय के बाद इन्हें नए साथी की तलाश रहती ही है, चाहकर भी ये लोग किसी एक के साथ एक निर्धारित समय के बाद नहीं रह सकते।

मीन राशि
ज्‍योतिष कहते हैं कि मीन राशि वाले लोग समस्याओं को सुलझाने से ज्यादा समस्या से दूर भागना चाहते हैं। ये किसी भी बात को बड़े ही सकारात्मक रूप से लेते हैं, इन्हें दुनिया को अपनी ही नजर से देखना पसंद हैं।