राहुल गांधी ने क्लियर कर दिया हर कन्फ्यूजन, गहलोत अगर बनेंगे अध्यक्ष तो नहीं रहेंगे सीएम!

जयपुर से लेकर दिल्ली तक अभी एक ही सवाल चल रहा है, वह है कि कांग्रेस का राष्ट्रीय अध्यक्ष कौन बनेगा? क्या वह मुख्यमंत्री अशोक गहलोत होंगे अगर वह राष्ट्रीय अध्यक्ष बनते हैं तो फिर मुख्यमंत्री कौन होगा? इस सवाल का जवाब अभी तक अशोक गहलोत की जुबानी यही है कि वे दोनों पदों पर बने रहना चाहते हैं और पार्टी की सेवा करना चाहते हैं । फिर चाहे वे दिल्ली में रहे या राजस्थान में वह अपना सब कुछ पार्टी को समर्पित कर चुके हैं।  इस मामले को लेकर ही कल वह दिल्ली पहुंचे थे और उन्होंने सोनिया गांधी से करीब 2 घंटे तक संवाद किया था।

एक व्यक्ति दो पद का सिद्धांत काम करेगा या नहीं
इस संवाद का कोई परिणाम सामने नहीं आने पर आज वह कोच्चि पहुंचे हैं।  जहां राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा में व्यस्त हैं।  वह आज और कल राहुल गांधी के साथ भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होंगे और उसके बाद यह तमाम स्थितियां क्लियर होने की बात की जा रही है।
लेकिन हाल ही में एक मीडिया चैनल को दिए गए बयान के बाद इस यक्ष प्रश्न का जवाब मिलता नजर आ रहा है कि एक व्यक्ति दो पद का सिद्धांत काम करेगा या नहीं ।

राहुल गांधी का इशारा, अशोक गहलोत को छोड़ना होगा CM पद
दरअसल, राहुल गांधी ने एक मीडिया चैनल को दिए बयान में यह कहा है कि एक व्यक्ति को एक ही पद पर तैनात रहना होगा । उन्हें अन्य पदों की जिम्मेदारी नहीं दी जाएगी।  उन्होंने यह भी कहा कि उदयपुर में पिछले साल हुए कांग्रेस पार्टी के बड़े संवाद आयोजन में भी यही तय किया गया था कि अब पार्टी के बड़े नेता एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत को फॉलो करेंगे।  हालांकि उस समय यह कहा गया था कि यह सिद्धांत या यह नया नियम साल 2024 से लागू होगा। इसी नियम की आड़ लेते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एक पद एक व्यक्ति सिद्धांत के अलावा, एक पद दो व्यक्ति सिद्धांत को फॉलो करने की कोशिश कर रहे थे।  लेकिन अब राहुल गांधी के दिए गए बयान के बाद स्थितियां साफ होती नजर आ रही है ।

अब राहुल गांधी से मिलने जाएंगे अशोक गहलोत
अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का कार्यक्रम यह है कि वह शुक्रवार को भी भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी के साथ शामिल होंगे । उसके बाद महाराष्ट्र में शिरडी के दर्शन करेंगे और शुक्रवार देर शाम तक वह वापस जयपुर लौट आएंगे । अगले सप्ताह वह फिर दिल्ली जाएंगे और राष्ट्रीय अध्यक्ष के होने वाले चुनाव के नामांकन प्रक्रिया को फॉलो करते हुए चुनाव में शामिल होंगे ।

अब राजस्थान का मुख्यमंत्री कौन होगा…? 
राहुल गांधी के इस बयान के बाद अब राजस्थान की राजनीतिक गलियारों में फिर से वही सवाल खड़ा होने लगा है कि अब राजस्थान का मुख्यमंत्री कौन होगा…? इसके लिए कई नाम पहले से ही सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों से चल रहे हैं।  लेकिन किसी भी नाम पर अभी तक आलाकमान ने मुहर नहीं लगाई है।