ख़बरदेश

जल्द बनेगी महाराष्ट्र में सरकार, चौंकाने वाला हो सकता है CM का नाम !

शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने दावा किया है कि राज्य में 5 वर्ष तक शिवसेना का ही मुख्यमंत्री रहेगा। वही इस घमासान के बीच शिवसेना के खेमे से बड़ी खबर सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आदित्य ठाकरे और उद्धव ठाकरे दोनों को ही मुख्यमंत्री न बनाने पर भी विचार कर रही है। सूत्रों के हवाले से मिली रिपोर्ट में दो नए नामों पर विचार किए जाने की बात सामने आई है। फिलहाल शिवसेना को पांच साल तक मुख्यमंत्री पद मिलेगा या ढाई साल तक इस पर अंतिम मुहर नहीं लगी है। चुनावी नतीजों के दिन से ही लगातार तीखे हमले कर रहे संजय राउत  का नाम भी चर्चा में है। इसी बीच सूत्रों से जानकारी है कि यदि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री बनने के लिए राजी नहीं होते हैं तो पार्टी के दिग्गज नेता संजय राउत या अरविंद सावंत सीएम पद की दौड़ में आ सकते हैं। बता दें कि उद्धव के बाद मुख्यमंत्री की दौड़ में राउत ही सबसे आगे हैं। इससे पहले भी गुरुवार को NCP अध्यक्ष शरद पवार ने राउत को सीएम बनाने की इच्छा जाहिर की थी।

इन दो नामों की चर्चा जोरो पर 

मीडिया सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के मुताबुक शिवसेना पार्टी के दो पुराने चेहरों एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई के नाम पर चर्चा जोरो पर है । दरअसल पार्टी के एक नेता के हवाले से खबर सामने आई है, ‘ढाई-ढाई साल तक मुख्यमंत्री पद का बंटवारा किए जाने की स्थिति में शिवसेना चीफ उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे क्योंकि यह उनके पद के अनुरुप नहीं होगा। वहीं आदित्य ठाकरे पहली बार विधायक बने हैं और वह खुद कैबिनेट से दूर रहना चाहते हैं। सीएम या मंत्री बनने से पहले सीखना चाहते हैं।’

तीनों दलों के बीच गुरुवार को हुई बैठक के दौरान राउत और आदित्य ठाकरे ने उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री पद संभालने के लिए समझाया था। साथ ही पवार ने भी सीएम बनने के लिए उद्धव को मनाने का प्रयास किया। हालांकि अब तक उद्धव ने पद संभालने के लिए हामी नहीं भरी है। वहीं पवार ने सीएम पद के लिए राउत का नाम आगे किया तो राउत ने शुक्रवार सुबह प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि ‘यदि शरद पवार ने महाराष्ट्र के सीएम पद के लिए मेरे नाम का सुझाव दिया है, तो यह गलत है। राउत ने बताया कि प्रदेश की जनता उद्धव ठाकरे को मुख्यमंत्री बनाना चाहती है।’

Back to top button