देशराजनीति

सिद्धू की पत्नी के बगावती बोल, कहा-हम राहुल के सिपाही, CM अमरिंदर सिंह के नहीं…

बुरे फंसे सिद्धू, पत्नी नवजोत कौर ने भी दिखाए बगावती तेवर कहा- कैप्टन नहीं, राहुल के सिपाही हैं

नई दिल्ली: विवादों में फंसे पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू पर मुसीबतो का दौर काम होने का नाम नहीं ले रहा है.. अपने हर बयान से विवाद में आने वाले सिद्धू इस बार अपनी पत्नी नवजोत कौर  के एक वीडियो से विवादों में घिर गए हैं. वीडियो में सिद्धू की पत्नी ने कहा कि सिद्धू मुख्यमंत्री अमरिंदर  के नहीं, राहुल के सिपाही हैं. अपने पति सिद्धू के सुर में सुर मिलाते हुए नवजोत कौर सिद्धू ने यह भी कहा कि उनके पति कांग्रेस की नई पीढ़ी के नेताओं से वास्ता रखते हैं, जो सिर्फ और सिर्फ राहुल गांधी का कहा मानते हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सीएम अमरिंदर सिंह कांग्रेस अध्यक्ष से सिद्धू और उनकी पत्नी की इस ‘अनुशासनहीनता’ की शिकायत कर सकते हैं. वहीं खबरों की माने तो पंजाब में कैबिनेट में जल्द ही फेरबदल होने वाला है. इसे लेकर सीएम अमरिंदर पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से चर्चा करने वाले हैं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी 10 दिसंबर को चंडीगढ़ एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आने वाले हैं. इस दौरान संभव है सिद्धू का मसला उनके समक्ष उठे.  

बता दें कि अपने राहुल गांधी को अपना कैप्टन वाले बयान पर सिद्धू बुरी तरह से घिर गए हैं. इस वजह से उनके ही साथी मंत्री उनके इस्तीफे की मांग कर रहें हैं. मंत्री राजेंदर बाजवा ने कहा कि अगर कैप्टन को सिद्धू नेता नहीं मानते तो मंत्री पद से इस्तीफा दें. कैबिनेट की बैठक होने वाली है जिससे पहले रणनीति बनाने में कैप्टन जुट गए हैं. सूत्रों के मुताबिक सिद्धू को कैबिनेट में रखना है या नहीं, मुख्यमंत्री रविवार को इस पर फैसला कर सकते हैं.

सिद्धू से नाराज पंजाब के तीन मंत्रियों ने उनसे इस्तीफे की मांग की है

पंजाब के मंत्रियों ने कहा है कि यदि सिद्धू अमरिंदर सिंह को अपना कैप्टन नहीं समझते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री की टीम छोड़ देनी चाहिए। मंत्री टीआर बाजवा ने कहा, ‘अगर वह अपने कैप्टन साहब को अपना कप्तान नहीं मानते हैं तो उन्हें इस्तीफा देना चाहिए। बिल्कुल, राहुल जी हमारे भारत के कप्तान हैं, लेकिन पंजाब का कप्तान अमरिंदर सिंह है। सिद्धू साहब एक असाधारण व्यक्ति हैं और आगे एक लंबा करियर है, उन्हें शब्दों को ध्यान से चुनना चाहिए।’

दरअसल, ये विवाद वहां से शुरू हुआ जब करतारपुर कॉरिडोर के आधारशिला समारोह में शामिल होने के लिए सिद्धू पाकिस्तान गए, जबकि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने उन्हें पाकिस्तान जाने से मना किया था। इस संबंध में जब उनसे सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘आप किस कैप्टन की बात कर रहे हैं। ओह, कैप्टन अमरिंदर सिंह। वे आर्मी कैप्टन हैं। मेरे कैप्टन राहुल गांधी हैं। कैप्टन के कैप्टन भी राहुल गांधी हैं। उन्होंने जहां जरूरत लगी, मुझे हर जगह भेजा।’

Back to top button