क्राइम

नारायण-नारायण : पत्नी के सामने लड़कियों से बनाता था संबंध, उतारता था ब्लू फिल्में

रेप के आरोप में जेल में बंद आसाराम के बेटे नारायण साईं को बलात्कार मामले में सूरत के सेशन कोर्ट ने दोषी करार देते हुए सजा का ऐलान किया है. नारायण को रेप के मामले में उम्रकैद की सजा दी गई है. साथ ही उसपर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. नारायण को शुक्रवार को ही दोषी करार दिया गया था.

आसाराम बापू और नारायण साईं पर रेप जैसे कई संगीन आरोप हैं. इंदौर के आश्रम में दोनों बाप-बेटे की महिलाओं के साथ रंगरेलियों की फोटो कई बार चर्चा का विषय रहे हैं. नारायण साईं की पत्नी जानकी ने तो दोनों पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. जानकी ने पुलिस में बयान दिया था कि नारायण साईं के महिलाओं से अवैध संबंध हैं और यह सब उसकी नजरों के सामने ही होता रहा.

जानकी ने आरोप लगाए थे कि पहली पत्नी के होते हुए उसने दूसरी शादी की. नारायण साईं आश्रम में बालिग और नाबालिग लड़कियों को डरा कर अवैध संबंध बनाता था. नारायण साईं ने कई बार उसके सामने आश्रम में लड़कियों के साथ संबंध बनाए. अगर कोई इसका विरोध करता तो वो मुंह बंद रखने और जान से मारने की धमकियां देता था.

जानकी ने बताया कि शादी के बाद नारायण आश्रम की साधिकाओं के साथ सत्संग के नाम पर घूमता रहता था. अकसर लड़कियों के साथ विदेश जाता था. उसने बताया कि नारायण के खराब चरित्र का वह विरोध करती तो वह उसे मानसिक-शारीरिक प्रताडऩा देता था.

नारायण साईं अपने आश्रम में लड़कियों की ब्लू फिल्म बनवाता था. नारायण साईं के इस कृत्य का खुलासा सूरत के सेशन कोर्ट की फास्ट ट्रैक अदालत के एक फैसले में हुआ था.

Back to top button