सेहत

सर से सफ़ेद बाल तोड़ने के पीछे क्या सच्चाई, जरूर जान लें बालों से जुड़ी इन बातों को


अपने बालों को लेकर अमूमन हर इंसान सचेत रहता है, सभी चाहते हैं की उनके बाल सुंदर, घने और काले हों लेकिन आजकल के भागदौर भरी जिन्दगी में ऐसा हो पाना काफी मुश्किल होता है. आजकल अधिकांश लोग असमी सफ़ेद बालों की समस्याओं से ग्रसित हैं और इसके अलावा बाल टूटने झड़ने और रूसी की समस्या तो अलग है ही. आपने अक्सर लोगों के मुहं से ऐसा सुना होगा की सफ़ेद बालों को तोड़ने से बाकी बाल भी सफ़ेद हो जाते हैं लेकिन क्या ये सच है. आज हम आपको बालों से जुड़े कुछ मिथकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें जानने के बाद आपको भी ये मालूम चल जाएगा की बालों के मामलों में कौन सी बातें सच्ची हैं और कौन सी झूठी.

जिन लोगों के मुहं से आप अक्सर ऐसा सुनते आये हैं की सफ़ेद बाल तोड़ने से और भी बाल सफ़ेद होते हैं तो आपको आपको बता दें की ऐसा बिल्कुल भी नहीं है. आपको बता दें की असल में बाल सफ़ेद मेलेनिन की वजह से होते हैं, सफ़ेद पड़े बालों को तोड़ने से दुसरे बालों का सफ़ेद होने वाली बात सरासर गलत है. असल में बालों के काले और सफ़ेद पड़ने के पीछे मेलेनिन मुख्य करण होता है अगर आपके बालों में मेलेनिन कम हो जाती है तो इससे आपके बाल असमी सफ़ेद होने लगते हैं.

इसके अलावा बालों के सफ़ेद होने के पीछे एक कारन हेरेदिरिटी भी है, यदि आपके परिवार में पहले से ही सभी के बाल असमी सफ़ेद होते आये हैं तो संभव हैं की आपके बाल भी असमी सफ़ेद हो सकते हैं. इसके आलवा आपको बता दें की भले ही सफ़ेद बालों को तोड़ने से और बाल सफ़ेद नहीं होते हैं लेकिन इसका मतलब ये भी नहीं है की आप अपने सफ़ेद बालों को हमेशा ही तोड़ते रहे क्यूंकि ऐसा करने से बाल कमजोर होते हैं और ज्यादा टूटते हैं.

बता दें की बालों के ज्यादा झड़ने के पीछे अक्सर लोग शैम्पू को दोष देते हैं लेकिन सच्चाई तो है की बालों के कमजोर होने और टूटने के पीछे आपका शैम्पू नहीं बल्कि आपका खान पान जिम्मेदार है. जी हाँ यदि आप सही खाना खाए यानि की अहरी सब्जियां और फल आदि तो आपके बाल असमय सफ़ेद नहीं होंगे. इसके अलावा आपको बता दें की यदि आप ये सोचते हैं की शैम्पू करने के बाद यदि आपके बाल टूट रहे हैं और इसके पीछे आपके शैम्पू का हाथ है तो आपको बता दें की ऐसा नहीं है. बालों के टूटने के पीछे सबसे बड़ा हाथ आप क्या खाते हैं और आपके खान पान के आलवा बाहर के वातावरण और धुल मिट्टी का है. बता दें की धूल मिट्टी की वजह से भी बाल ख़राब होते हैं और ज्यादा टूटने लगते हैं.

इसके अलावा जो लोग ये सोचते हैं की ज्यादा तेल लगाने से बाल मुलायम और मजबूत होते हैं उन्हें ये जान लेना चहिये की असल में बालों में ज्यादा देर तक तेल लगाए रखने से बल कमजोर होते हैं और मुलायम होने की वजह से जल्दी टूटने लगते हैं. इसके अलावा आपको बता दें की बालों को मजबूत रखने के लिए जरूरी है की आप बालों में तेल लगायें लेकिन कुछ देर के बाद यानी की करीबन एक घंटे के बाद शैम्पू कर लें.

Back to top button