क्राइम

काले हैं इस खूबसूरत चेहरे के कारनामे….इनसे बचकर रहें तो ही अच्छा

हाल ही में दिल्ली केतेजाजी नगर थाना क्षेत्र में 40 वर्षीय डेकोरेशन व्यापारी की उसी के कर्मचारी ने अन्य दो कर्मचारियों के साथ मिलकर ह’त्या कर दी। ह’त्या का कारण व्यापारी की पत्नी से कर्मचारी के अवैध संबंध होने है। 23 जनवरी को पत्नी ने प्रेमी से यह म’र्डर करवाया था।

डेकोरेशन व्यापारी देवेंद्र कुशवाह की ह’त्या में उसकी पत्नी दीपा भी शामिल है। पुलिस ने शुक्रवार को उसके खिलाफ ह’त्या का केस दर्ज कर उसे जेल भेज दिया। तेजाजी नगर टीआई नीरज कुमार मेढ़ा ने बताया दीपा के मोबाइल की जांच की गई तो वाट्सएप चैटिंग और कॉल रिकॉर्डिंग में आरोपी निखिल चौहान के साथ ह’त्या की साजिश रचने के सबूत मिले।

एएसपी प्रशांत चौबे के मुताबिक, मृतक देवेंद्र कुशवाह (40) की ह’त्या के मामले में आरोपी निखिल (25), आशीष (19) को पकड़ा। फरार आरोपी अजय भिलाला (35) है। मुख्य आरोपी निखिल ने बताया- 7 महीने पहले मृतक की पत्नी से फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। पत्नी ने ही योजनाबद्ध तरीके से उसे पति के डेकोरेशन के काम में लगवा दिया था। देवेंद्र को शंका हुई तो पति-पत्नी में निखिल को लेकर विवाद होने लगे।

तेजाजी नगर टीआई नीरज कुमार मेढ़ा के मुताबिक, 7 दिन पहले निखिल ने देवेंद्र को रास्ते से हटाने की साजिश की। बाजार से चाकू खरीदकर लाया। बुधवार (23 जनवरी) को क्रिसेंट पार्क में देवेंद्र तीनों आरोपियों के साथ डेकोरेशन करने गया था। जाते वक्त वो गाड़ी में पीछे बैठा था। आते वक्त उसे ड्राइवर के पास वाली सीट पर बैठा दिया। सुनसान इलाका देखकर निखिल ने इसके गले पर वार किया तो वह चलती गाड़ी से कूदकर भागने लगा। इस पर आरोपियों ने पीछे से सिर में पत्थर मार दिया। जमीन पर गिरने के बाद चाकुओं से वारकर ह’त्या की। इसके बाद तीनों फरार हो गए थे।

पूछताछ में निखिल ने बताया दीपा से 8 महीने पहले फेसबुक पर दोस्ती हुई थी। उसके बाद दोनों में प्रेम-प्रसंग हो गया। कुछ समय बाद दोनों में अवैध संबंध बन गए। दीपा ने पति को धोखे में रखकर उसके डेकोरेशन व्यापार में लगवा दिया। इसके बाद निखिल का रोज उसके घर आना-जाना हो गया। अवैध संबंध की भनक लगने पर देवेंद्र का दीपा से आए दिन विवाद होने लगा। इस पर दीपा ने कहा था- पति को रास्ते से हटाना पड़ेगा। प्रेमिका की बाद सुनकर एक बार तो हैरान रह गया लेकिन पति को रास्ते से हटाने के लिए तैयार भी हो गया।

Back to top button