जरा हट के

गुल्लक तोड़कर बच्चा पहुँचा अस्पताल, बोला- डॉक्टर अंकल! इसको बचा लीजिए

साइकल लेकर मुर्गी के चूजे पर चढ़ गया बच्चा, 10 रुपये लेकर पहुंचा अस्तपाल, बोला- प्लीज इसे बचा लो

कुछ बाते अक्सर सोचने पर मजबूर कर देती है. क्या ऐसा भी हो सता है आज की दुनिया में अभीकुछ खबरें ऐसी होती हैं, जिन पर भरोसा करना नामुमकिन सा  होता है. मगर जब सामने आती है तो होश तक उड़ जाते है. ऐसा ही कुछ आज हम आपको बताने जा रहे जिसे जानकर आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे. ऐसे ही एक खबर ने लोगो ने मन को छु लिया.

बताते  चले मिजोरम से आयी इस खबर की सोशल मीडिया पर तेज़ी से चर्चा हो रही है.  इस 6 वर्षीय बच्चे की मासूमियत की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं.   उसने गलती से मुर्गी के चूजे के ऊपर साइकल चढ़ा दी थी. जिसके बाद को परेशान सा हो गया. और फिर घबराते हुए  अस्पताल पहुंचा. उसके एक हाथ में दस रुपये थे तो दूसरे हाथ में मुर्गे का बच्चा था. अस्पताल के कर्मचारी बच्चे को देखकर हैरान रह गए.

उन्होंने मीडिया  से बात में बताया गया 

As per Reports: This young boy from Sairang, Mizoram, accidentally ran over his neighbour's chicken. He took the…

Gepostet von Sanga Says am Dienstag, 2. April 2019

डेरेक के पिता ने ये पूरी घटना को बताया और फोटो शेयर की. उन्होंने कहा- ‘पिता के मुताबिक, बच्चा पड़ोस के मुर्गे के बच्चे के साथ घर पहुंचा, जिसको उसने गलती से मार दिया था. बच्चे को पता नहीं था कि बच्चा मर चुका है. उसने पिता से कहा कि इसे अस्पताल ले चलिए. पिता ने बच्चे को खुद जाने को कहा. उस वक्त बच्चे की जेब में 10 रुपये थे वो उन पैसों और चूजे को लेकर अस्तपाल पहुंच गया.
डेरेक अस्पताल से वापस घर लौटा और चूजे की मदद करने के लिए 100 रुपये लेकर फिर अस्पताल गया.

जिसके बाद बच्चे के माता-पिता ने समझाया कि चूजे मर चुका है और अस्पताल के साथ में अब कुछ नहीं है. फेसबुक पर डेरेक की फोटो काफी वायरल हो रही है. इस पोस्ट को हजारों लोग शेयर कर चुके हैं. एक यूजर ने लिखा- ‘दिल को छू लेने वाली पोस्ट.’ वहीं एक और यूजर ने लिखा- ‘भगवान इस ईमानदार छोटे बच्चे को दिल से आशीर्वाद दे.’

Back to top button