उत्तर प्रदेश

मेट्रो स्टेशन पर उतरवा लिया मुस्लिम महिलाओं का बुर्क़ा, बोले- जांच कराओ

 

राजधानी लखनऊ के मेट्रो स्टेशन में चेकिंग के नाम पर मुस्लिम महिलाओ का अपमान का मामला सामने आया है. इस मामले में  पांच लखनऊ के मवैया मेट्रो स्टेशन पर मुस्लिम महिलाओं के बुर्का हटाने को लेकर बड़ा हंगामा देखने को मिला. मेट्रो स्टेशन पर चेकिंग के नाम पर गार्डों ने केबिन के बाहर ही महिलाओं से बुर्का हटाने को कहा. जब महिलाओं ने इसका  विरोध किया तो स्टेशन के गार्ड़ों ने उन पर दबाव बनाया. इसके बाद महिलाओं ने मेट्रो में सफर करने से इनकार कर दिया और टिकट वापस कर पैसे ले लिए. इस मामले में महिला के परिजनों ने मेट्रो अधिकारियों को पत्र लिखकर शिकायत की है और जांच की मांग की है.

 

जानिए क्या है ममला 

राजधानी लखनऊ के आलमबाग निवासी माज अहमद ने इस मामले में कहा की, वह महिला रिश्तेदारों के साथ मंगलवार शाम 7:45 पर मवैया मेट्रो स्टेशन पहुंचे थे. आलमबाग तक के लिए उन्होंने छह टिकट खरीदे. माज का आरोप है मेट्रो स्टेशन पर चेकिंग के दौरान वहां मौजूद पुरुष गार्डों ने महिलाओं से बाहर ही नकाब हटाने को कहा, जबकि महिलाओं का कहना था कि वे केबिन के अंदर महिला गार्ड को तलाशी देने के लिए तैयार हैं, लेकिन मेट्रो स्टेशन के गार्ड अपनी बात पर अड़े रहे. इस पर माज और उनके रिश्तेदारों ने यात्रा रद कर अपनी टिकट के पैसे वापस ले लिए.

 

इस मामले में परजिनों ने लगाया बदसलूकी का आरोप

इस मामले में माज अहमद का कहना है लखनऊ मेट्रो के एमडी कुमार केशव को पत्र लिखा है. पत्र में युवक ने आरोप लगाया कि मेटल डिटेक्टर और महिला केबिन होने के बावजूद मेट्रो में सुरक्षा के नाम पर महिलाओं के साथ बदसलूकी की गई, इससे उन्हें गहरा धक्का लगा है. उन्होंने कहा कि इस मामले की जांच होनी चाहिए.

क्या कहते हैं जिम्मेदार?
एलएमआरसी जनसंपर्क अधिकारी पुष्पा बेलानी का कहना है कि सुरक्षा कारण से भी अगर जांच करनी होगी, तो वह उसके लिए महिला सुरक्षा गार्ड ही कह सकती है। शिकायती पत्र मिला है, संबंधित सुरक्षा गार्ड व सीसीटीवी फुटेज बुधवार को देखे जाएंगे, मामला सही पाए जाने पर कार्रवाई की जाएगी.

 

Back to top button