देशराजनीति

Me Too: अब केंद्रीय मंत्री पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप, सामने आई ये वजह

MJ Akbarनई दिल्ली। इन दिनों एक के बाद एक फिल्म इंडस्ट्री से लेकर बड़ी से बड़ी हस्तियों के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोप सामने आ रहे हैं।। कॉमेडियन्स, पत्रकारों के बाद अब महिलाएं राजनीतिक हस्तियों पर भी खुलकर बोल रही हैं। अब केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर के खिलाफ भी महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है। विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर पर कई महिला पत्रकारों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए ट्वीट किया है।

केंद्रीय मंत्री पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप

केंद्रीय मंत्री पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप

#MeToo आंदोलन के तहत कई महिलाओं ने विदेश राज्य मंत्री और पूर्व पत्रकार एमजे अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगया है। एक महिला पत्रकार ने एमजे अकबर पर आरोप लगाया कि वो इंटरव्यू के बहाने महिलाओं को होटल कमरे में बुलाते थे और उनका व्यवहार आपत्तिजनक होता था। एक महिला पत्रकार ने ट्विटर पर एक लिंक पोस्ट करते हुए लिखा कि उन्होंने ये आर्टिकल एमजे अकबर के लिए लिखा था। महिला पत्रकार ने वोग पर लिखे एक आर्टिकल का लिंक शेयर किया है जिसमें अकबर पर कई संगीन आरोप लगाए गए हैं।

होटल के कमरे में लेते थे महिलाओं का इंटरव्यू’ ‘

टू दी हार्वे वाइंस्टीन ऑफ द वर्ल्ड’ टाइटल नाम से इस लेख में पत्रकार ने बताया कि अकबर ने उनका इंटरव्यू होटल के एक कमरे में लिया था और उन्हें उस दौरान शराब भी ऑफर की थी। पत्रकार ने बताया कि होटल के कमरे में एक मिनी बार भी सेट किया गया था और अकबर ने उस दौरान उनसे बिस्तर पर बैठने के लिए भी कहा था, जिसे पत्रकार ने मना कर दिया। एमजे अकबर पर महिला पत्रकार के आरोपों के बाद अन्य कई महिलाएं खुलकर सामने आ रही हैं। कई महिलाओं ने बताया है कि अकबर ने उनका भी इंटरव्यू इसी तरह से लिया था।

न्यूजरूम को बताया ‘अकबर का हरम’

एमजे अकबर ऐसे ही आरोप लगाते हुए एक महिला ने स्क्रॉल को बताया कि 1990 में वो जिस अखबार के संपादक थे, वहां ऑफिस में अधिकतर युवा लड़कियां ही थीं। महिला ने बताया, ‘सबसे अजीब बात थी कि वो अखबार में केवल युवा महिलाओं को नौकरी देते थे। वहां पुरुषों से ज्यादा युवा महिलाएं अधिक थीं और उसे ‘अकबर का हरम’ कहा जाता था। उसकी ऐसी छवि थी।’

विपक्ष के निशाने पर एमजे अकबर

कई महिलाओं ने आरोप लगाया कि अकबर पर इस तरह से इंटरव्यू लेने और न्यूजरूम में आपत्तिजनक व्यवहार का आरोप लगाया है। होटल के कमरे में शराब और बिस्तर तैयार रखा रहता था। एमजे अकबर ने अभी तक अपने ऊपर लगे आरोपों पर कोई सफाई नहीं दी है। वहीं विपक्ष ने अकबर को घेरना शुरू कर दिया है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता घनश्याम तिवारी ने कहा है कि ये गंभीर आरोप हैं और अकबर को इस्तीफा देना चाहिए।

Back to top button