ख़बरदेश

आखिरी सलाम : पत्नी ने शहीद मेजर का चूमा माथा और बोला-“I love you”, देखे विडियो

कश्मीर के  पुलवामा जिले में सोमवार को आतंकियों  से एक मुठभेड़ में एक मेजर और चार सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए।शहीद हुए मेजर वीएस ढौंडियाल को आखिरी विदाई देने के लिए लोगों का जब सैलाब उमड़ पड़ा  अंतिम यात्रा के दौरान पत्नी ने उन्हें सलाम किया और ताबूत चूमकर बोलीं. I LOVE YOU, वह फूलों से सजे ताबूत में रखे अपने शहीद पति को देर तक निहारती रहीं। आंखों के आंसू सूख चुके थे। अभी पिछले साल ही तो शादी हुई थी।  क्या-क्या सपने संजोए थे। पर पति की कुर्बानी पर गर्व हो रहा था। हाथ से पति को छू भी रही थीं। बार-बार ताबूत को छू रही थीं। शायद दिल ही दिल में कुछ कह रही थीं। उन्हें पता था कि उनके पति देश पर अपना सर्वस्व कुर्बान कर अंतिम सफर पर जा चुके हैं।

इस दौरान एक तस्वीर भी आई, जिसमें मेजर ढोंडियाल की पत्नी उन्हें सलाम करती हैं और उन्हें श्रद्धांजलि देती हैं। उनकी शादी पिछले साल ही हुई थी, और उसे सालभर भी नहीं हुआ था। मेजर ने पिछले साल अप्रैल में नितिका कौल से शादी की थी। दिल्ली में एक बहुराष्ट्रीय कंपनी (MNC) के लिए काम करने वाली नितिका सोमवार सुबह देहरादून से दिल्ली के लिए निकली थीं। उन्हें रास्ते में खबर मिली और वह देहरादून लौट आईं।

मेजर ढौंडियाल का पार्थिव शरीर सोमवार शाम देहरादून पहुंचा। ‘इंडियन एक्सप्रेस’ से उनके बचपन के दोस्त मयंक खंडूरी ने कहा कि ढौंडियाल लगभग दो महीने पहले देहरादून आया था। हमने एक साथ ज्यादा समय नहीं बिताया था। अगली बार ज्यादा समय बिताने की बात हुई थी।’ खंडूरी ने कहा कि 2011 में ढौंडियाल सेना में शामिल हो गए और उन्होंने अपने अधिकांश सेवा वर्ष जम्मू-कश्मीर में बिताए।

इस मुठभेड़ में मेजर वीएस ढोंडियाल, हवलदार एस राम और सिपाही हरि सिंह एवं अजय कुमार शहीद हुए। इसके साथ ही पुलिस का एक हेड कांस्टेबल भी शहीद हो गया।

सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने ढोंडियाल को एक बहादुर अधिकारी के रूप में याद किया। उन्होंने कहा, ‘वह अधिकारी था जो ऑपरेशन में नेतृत्व करते हैं। वह बेहद बुद्धिमान और बहादुर था।’

Back to top button