धर्म

जिन शादीशुदा महिलाओं ने किया ये काम, उनका पूरा परिवार झेलता है नुकसान

हम सभी जानते हैं कि हमारे देश में हिंदू धर्म में महिलाओं को देवी लक्ष्मी का स्थान दिया गया है। यही वजह है कि इनके द्वारा किए गए अच्छे तथा बुरे कर्मों का फल पूरे परिवार को मिलता है। कहा जाता है कि जिस घर में महिलाएं संस्कारी होती है और नियम पूर्वक हर कार्य करती हैं, उस घर में सुख और समृद्धि बनी रहती है। वही जिस घर की महिलाएं नियम पूर्वक नहीं रहती हैं वहां पर दरिद्रता छाई रहती है।

घर की औरतें न केवल घर संभालती है, बल्कि पूरे परिवार की जिम्मेदारी उनके कंधों पर होती है। शास्त्रों में कई ऐसे नियम बनाए गए हैं, जिनका पालन यदि कोई व्यक्ति नहीं करता है, तो उसे मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। खासतौर पर औरतों से जुड़े कई महत्वपूर्ण नियम है, जिनका पालन करना अत्यंत आवश्यक है।

इस पोस्ट में हम कुछ ऐसे कार्यों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो औरतों के लिए निषेध है । शास्त्रों के मुताबिक इन कार्यों को करने से औरतों को बचना चाहिए।

आइए जानते हो वह कार्य कौन से है-

● घर की महिलाओं को शाम के समय सोने से बचना चाहिए। जिस घर में महिलाएं शाम के समय सोती है उस घर में दरिद्रता का वास होता है।

● दिन ढलने के बाद महिलाओं को घर में झाड़ू नहीं लगाना चाहिए। जिस घर में मिला है ऐसा करती हो उस घर में दरिद्रता आती है।

● जिस घर में महिलाएं बात-बात पर झगड़ा करती हैं और आलस करती है ऐसे घरों में मां लक्ष्मी नहीं रुकती।

● जिन घरों में रात में जूठे बर्तन रखे रहते हैं, उन घरों में धन की कमी हमेशा बनी रहती है।

● घर की महिलाओं को कभी भी दरवाजे को ठोकर नहीं मारनी चाहिए, ऐसा करने से मां लक्ष्मी नाराज हो जाती है।

● जिस घर में महिलाएं सुबह देर तक सोती हैं, उस घर में धन की हमेशा कमी बनी रहती है। ऐसे घर के सदस्यों को हमेशा ही असफलताओं का सामना करना पड़ता है।

● घर की दहलीज पर बैठकर भोजन करने से बचना चाहिए। जिस घर के सदस्य घर की दहलीज पर बैठकर भोजन करते हैं वहां पर कभी भी सुख का वास नही होता है।

● झाड़ू को घर के लक्ष्मी माना गया है। जिस घर मे महिलाएं या कोई अन्य सदस्य झाड़ू को पैर से छूते हैं। उस घर से माँ लक्ष्मी रुष्ट हो जाती है।

Back to top button