क्राइम

कुंवारे के प्यार में तबाह हो गई शादीशुदा महिला, तस्वीर देख मुंह को आ जाएगा कलेजा

आज जिस खबर के बारे में हम आपको बताने वाले है, उसके बारे में जान कर आपका दिल दहल जाएगा.  ये खबर एक अधजली लड़की के बारे में है, यानि आधी जली हुई लड़की के बारे में है.  मेड़ता सिटी नागौर में एक सुनसान इलाके में एक लड़की का आधा जला हुआ शव मिला है और अब पुलिस ने इस मामले को लेकर खुलासा भी कर दिया है. बता दे कि लड़की की हत्या उसके प्रेमी ने ही की थी और चेहरा जला हुआ होने के कारण लड़की की पहचान नहीं हो पा रही थी. ऐसे में आधारकार्ड मशीन के जरिये उसकी पहचान की गई थी. फ़िलहाल पुलिस ने लड़की के प्रेमी दीपक को गिरफ्तार कर के अदालत में पेश कर दिया है.

मरने वाली लड़की का आधा जला हुआ शव जोधपुर रोड पर अविकसित कॉलोनी गुरुदेव नगर में मिला था. बता दे कि मरने वाली लड़की का नाम इंद्रा था और इंद्रा तथा दीपक का काफी लम्बे समय से प्रेम संबंध चल रहा था. आपको जान कर ताज्जुब होगा कि इंद्रा पहले से शादीशुदा थी. वही दीपक पिछले साल सितम्बर में भी इंद्रा को भगा कर ले गया था. हालांकि कुछ दिन के बाद दोनों वापिस लौट आये थे.

इस बारे में एसआई अमराराम बिश्नोई का कहना है कि इंद्रा अपने ससुराल जाना चाहती थी, लेकिन दीपक उसे अपने साथ रखना चाहता था. मगर जब इंद्रा नहीं मानी तो दीपका ने उसे एक दिन पहले फ़ोन करके घर के बाहर मिलने के लिए बुलाया. इसके बाद वह इंद्रा को बाइक से डिस्कॉम जीएसएस पर बने एक कमरे में ले गया. बता दे कि वहां दोनों के बीच काफी लड़ाई हुई और फिर दीपक ने चुन्नी से गला घोंट कर इंद्रा की हत्या कर दी. गौरतलब है कि वही से दीपक इंद्रा के शव को एक बोरे में डाल कर सुनसान इलाके में ले गया था. इसके बाद वही अपनी बाइक से थोड़ा सा पेट्रोल निकाल कर इंद्रा के शव को भी जला दिया.

बता दे कि दीपक के पिता डिस्कॉम में ही कर्मचारी है. यही वजह है कि दीपक भी ज्यादा समय तक जीएसएस पर काम करता था. ऐसे में उसका वहां आना जाना लगा रहता था. ऐसे में वो इंद्रा को कमरे में ले गया और वहां उसकी हत्या कर दी. वही अगर पुलिस की माने तो उनका कहना है कि इंद्रा और दीपक के बीच मोबाइल से ही बात होती थी और दीपक ने इसके लिए एक अलग सिम भी ले रखा था. यानि इस सिम से वह केवल इंद्रा से ही बात करता था. बता दे कि पुलिस ने आधारकार्ड मशीन पर इंद्रा के अंगूठे का निशान लिया था और इसी से उसकी पहचान की गई थी.

बरहलाल हम तो यही उम्मीद करते है कि मुजरिम को जल्द से जल्द कड़ी सजा मिले, ताकि मरने वाली लड़की को इंसाफ मिल सके.

Back to top button