ख़बरदेश

इस बार का चुनाव है खास, EVM पर दिखेगी उम्मीदवारों की तस्वीरे…

इस बार evm के लिए इमेज परिणाम

नयी दिल्ली  सत्रहवीं लोकसभा की 543 सीटों के लिए चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई के बीच सात चरणों में होंगे और मतगणना 23 मई को की जायेगी।
आँध्र प्रदेश, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम की विधानसभाओं के चुनाव भी लोकसभा चुनाव के साथ होंगे लेकिन जम्मू कश्मीर विधानसभा चुनाव राज्य की सुरक्षा स्थिति को देखते हुए अभी नहीं कराये जायेंगे।
मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार को यहाँ संवाददाता सम्मेलन में चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की और इसके साथ ही देश भर में आदर्श आचार संहिता लागू हो गयी। इस बार चुनाव में इस्तेमाल होने वाली सभी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) के साथ वीवीपैट का इस्तेमाल किया जायेगा। इस चुनाव में पहली बार पर्यावरण को क्षति पहुंचाने वाली चुनाव प्रचार सामग्री पर रोक लगाते हुए सिर्फ पर्यावरण अनुकूल चुनाव प्रचार सामग्री के इस्तेमाल की अनुमति दी गयी है।

1. EVM पर इस बार उम्मीदवारों की तस्वीर होगी. सभी मतदान केंद्रों पर इस बार VVPAT का इस्तेमाल होगा. साथ ही इस बार लोकसभा चुनाव में डेढ़ करोड़ युवा पहली बार वोट डालेंगे.

2. चुनाव में 90 करोड़ लोग अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे. करीब डेढ़ करोड़ वोटर 18-19 आयु वर्ग के होंगे

3. 590 पर फोन कर और SMS के जरिए वोटर, वोटिंग लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं. कुल 10 लाख बूथों पर वोट डाले जाएंगे.

5. सभी संवेदनशील जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगेंगे और वेबकास्टिंग होगी. सभी बड़ी घटनाओं की वीडियोग्राफी की जाएगी.

6. ईवीएम की जीपीएस ट्रैकिंग भी की जाएगी. संवेदनशील इलाकों में CRPF की तैनाती भी की जाएगी.

7. देशभर में आज से आदर्श आचार संहिता लागू हो गई और किसी भी उल्लंघन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.  लाउड स्पीकर के इस्तेमाल पर नजर रखी जाएगी और समय-सीमा के अंदर की उसके इस्तेमाल की इजाजत होगी

8. सोशल मीडिया पर प्रचार करने के पहले भी राजनीतिक पार्टियों को इजाजत लेनी होगी. साथ ही सोशल मीडिया पर प्रचार का खर्च भी चुनाव के खर्च में जुड़ेगा. इसके साथ ही पेड न्यूज पर नजर रखने के लिए एक कमिटि का गठन किया जाएगा.

9. फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब पर राजनीतिक विज्ञापन की जानकारी रखी जाएगी. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने शिकायत अधिकारी नियुक्त किया जाएगा

10. पहचान पत्र के लिए 11 विकल्प रखे गए हैं.

Back to top button